गणतंत्र दिवस: राजपथ पर आन-बान-शान के साथ भावुक हुए राष्ट्रपति, जश्न में डूबा पूरा देश

नई दिल्ली: देश आज 69वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। इस मौके पर परंपरागत तरीके से हर बार की तरह इस बार भी राजपथ से परेड गुज रही है। जी हां, इस बार के गणतंत्र दिवस पर हमारे यहां एक नहीं, दो नहीं पूरे दस मेहमान शामिल है, जो देश की शान बढ़ा रहे हैं। बता दें कि मेहमानों की गणतंत्र दिवस पर अपनी एक खास जगह होती है, इससे जहां एक तरफ देश मजबूत होता है, तो वहीं पूरे विश्व में भारत का डंका बजता है। आइये जानते हैं कि आखिर क्या खास है?

बता दें कि 26 जनवरी, 1949 को 10 बजकर 18 मिनट पर भारत सबसे बड़ा गणतंत्र राज्य बना, जिसके बाद से आज तक भारत तरक्की की हर राह पर बढ़ता ही जा रहा है। तब से लेकर अब तक देश ने बहुत कुछ खोया तो बहुत कुछ पाया है। जी हां, गणतंत्र दिवस पर तीनों सेनाएं परेड में अपना जौहर दिखाती है। बता दें कि इस बार गणतंत्र दिवस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर आसियान देशों के प्रमुख शामिल हुए हैं।

गणतंत्र दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने पूरे देशवासियों को गणतंत्र दिवस की बधाई दी है। जी हां, इस समय पूरा राजपथ एक दुल्हन की तरह सजा हुआ है। चप्पे चप्पे पर कड़ी सुरक्षा के साथ देश गणतंत्र दिवस मना रहा है। बता दें कि यह पहला मौका है जब गणतंत्र दिवस परेड में 10 राष्ट्राध्यक्ष एक साथ शामिल हुए हैं। बता दें कि ये खास मेहमान राजपथ पर भारतीय संस्कृति की समृद्ध परंपरा, ताकत और विकास की झलक देख रहें हैं। वाकई ये ऐतिहासिक दिन है, जब भारत में एक नहीं दो नहीं बल्कि पूरे दस मेहमान गणतंत्र दिवस की शोभा बढ़ाने के लिए आएं हैं।

बताते चलें कि इस गणतंत्र दिवस के  बाद भारत का गौरव और भी बढ़ जाएगा। जी हां, भारत का सर पूरी दुनिया में और भी ऊंचा हो जाएगा। इतना ही नहीं, आसियान देशों के साथ भारत का रिश्ता और भी ज्यादा मजबूत हो जाएगा, ऐसे में भारत की विदेश नीति एक कदम और बढ़ जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.