कर्नाटक में बीजेपी विकास के नारे से तय करेगी ‘कांग्रेस मुक्त भारत’ का सफर

कर्नाटक: कर्नाटक में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी और कांग्रेस ने कमर कस ली है। जी हां, इस चुनाव को कांग्रेस और बीजेपी की शान माना जा रहा है। बता दें कि कर्नाटक कांग्रेस का गढ़ माना जाता है, ऐसे में यहां बीजेपी की जीत आसान नहीं होगी। लेकिन बीजेपी ने कर्नाटक जीतने के लिए रणनीति बना ली, जिसके मुताबिक राहुल गांधी से एक और राज्य छीन लिया जाएगा। आइये देखते हैं कि हमारी इस रिपोर्ट में खास क्या है?

कर्नाटक विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी ने बड़ी भविष्यवाणी की है। जी हां, बीजेपी का कहना है कि वो 150 से ज्यादा सीटों पर जीत हासिल करेगी। बता दें कि केंद्रीय शिक्षामंत्री प्रकाश जावेड़कर ने कहा कि कर्नाटक चुनाव का राष्ट्रीय स्तर पर महत्व है क्योंकि दक्षिण में यह इकलौता ऐसा राज्य है जहां कांग्रेस की सरकार है, ऐसे में कांग्रेस का सफाया करने के लिए इस चुनाव में बेहतरीन रणनीति के साथ उतरेंगे हम।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि बीते चार सालो में 15 हिंदू कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई है, यह कांग्रेस की सांप्रदायिक तथा वोट बैंक राजनीति का ही नतीजा है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस धर्म के आधार पर राजनीति करती है, इसलिए उसका सफाया होना बहुत जरूरी है।

गौरतलब है कि बीजेपी के विकास के नारे से कर्नाटक को फतेह करना चाहती है। याद दिला दें कि 2013 से पहले बीजेपी कर्नाटक की सत्ता में थी, लेकिन 2013 में हुए विधानसभा में कांग्रेस ने बीजेपी से कर्नाटक छीन लिया था। बता दें कि अभी कांग्रेस के पास 121 सीट है। याद दिला दें कि कांग्रेस की सरकार कर्नाटक, पंजाब और देश के कुछ ही राज्यों में इनकी सरकार बची हैं, ऐसे में बीजेपी का मानना है कि जल्द ही उसका कांग्रेस मुक्त भारत का सपना पूरा होने वाला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.