इस सब्जी को खाएंगे और लगाएंगे तो सफेद बाल हो जाएंगे काले, आजमाकर देखिए

लड़का हो या लड़की आज के दौर में बालों की सफेदी और झड़ने से ज्यादातर परेशान हैं। साथ ही लड़कों के साथ तो और विडंबना है। वो युवा अवस्था में ही गंजे होते जा रहे हैं। झड़ते बालों को लेकर युवा परेशान है। जिसके चलते डॉक्टरों के पास जाकर जहां हजारों रुपए खराब कर रहे हैं। वहीं घरेलू नुस्खे अपना-अपना कर थक चुके है। ऐसे में हम आपको एक ऐसा उपाय बता रहे हैं। जिसको करने से आपके बाल न सिर्फ काले होंगे बल्कि स्वास्थ्य संबंधी भी तमाम फायदे होंगे।

गर्मियों के मौसम में बाजार में  मिलने वाली तोरी, कोई इसे तुरई कहता है तो कोई तोरी। जितने प्रांत, जितने लोग उतने नाम की ये सब्जी खाने में भले ही थोड़ी फीकी और बेस्वाद सी लगे लेकिन आपके हमारे शरीर के लिए जान है। तोरी  जिसे अंग्रेज़ी में लुफ्फा एक्युटंगुला भी कहा जाता है, एक गाढे हरे रंग की सब्जी है। इसके बारे में तो हम सभी जानते हैं और ये हर घर में सब्जी के तौर पर गर्मियों में बनने वाली सबसे अधिक और प्रिय सब्जी है। लेकिन क्या आप जानते हैं इस सामान्य से दिखने वाले सब्जी के गुण। क्योंकि जितनी आसान और सामान्य ये दिखती है। इसके गुण और भी ज्यादा अच्छे हैं। क्योंकि इसमें जो पदार्थ पाए जाते हैं शायद ही किसी में हों। तोरी में डाइटरी फाइबर,आयरन,मैग्नीशियम,जिंक का एक काफी अच्छा स्त्रोत है। तुरई में काफी कम मात्रा में फैट,कोलेस्ट्रोल तथा कैलोरीज होते हैं जो इसको वजन कम करने के लिए एक आदर्श सब्जी बनाते हैं।

आदिवासी क्षेत्रों में तोरी को अमृत की तरह माना जाता हैं। क्योंकि उन से अच्छा कोई भी आदमी इस सब्जी को नहीं बनाता। गर्मियों में तोरी आदिवासी क्षेत्रों में सबसे ज्यादा बनाई जाती है। आज जबकि लोगों के खान-पान में बदलाव आ गया है जिसकी वजह से शरीर को कई तरह की बीमारियां लग जाती हैं। ऐसे में प्राकृतिक सब्जियों को प्रयोग करके हम कई तरह के बीमारियों से बच सकते हैं। आपने एक बात और गौर की होगी की आदिवासी और जंगलों में रहने वाली महिलाओं को बाल हमेशा ज्यादा घने और खूबसूरत होते हैं। साथ ही सही उम्र से पहले सफेद भी नहीं होते। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण है। तोरी क्योंकि इन महिलाओं द्वारा कई महीनों तक इस सब्जी का सेवन किया जाता है।

तोरी जितना खाने में लाभकारी है। उतना ही असमय यानी जवानी और कम उम्र में सफेद हुए बालों के लिए लाभकारी है। बाल काले करने के लिए तुरई के कुछ टुकड़ों को छाया में सुखा कर कूट लें । इन टुकडों को नारियल के तेल में मिलाकर 5 से 6 दिन तक रखें, फिर इसको उबालें तथा छानकर बोतल में भर लें। इसे हल्का गर्म करके नियमित बालों की मालिश करें,ऐसा नियमित करने से सफ़ेद हुए बाल धीरे-धीरे काले हो जायेंगे |