अपनी ऐज के हिसाब से जाने, मैरिज के बाद पहला बेबी करना कब होगा ठीक!

आजकल प्यार तो बहुत जल्दी हो जाता है लेकिन इस दौर के प्रेमी-प्रेमिकाओं को शादी का नाम सुनते ही बोझ महसूस होने लगता है लेकिन शादी तो एक ऐसा बंधन हैं, जिसे ना चाहते हुए भी करनी ही पडती है. शादी के बाद सबसे बड़ा मुद्दा तब खड़ा होता है जब शादी के अगले ही दिन परिवार वाले टांग खींचना शुरू कर देते हैं “और खुशखबरी कब सुना रहे हो?” इधर पति-पत्नी दोनो का पसीना छूट रहा होता है, और उधर से घरवालों का प्रेशर. क्योंकि आज के नए जमाने की लड़कियां प्रेग्नेंट होना सुनते ही घबरा जाती हैं. क्योंकि उन्हें ऐसा लगता है कि वो जिम्मेदारियां नही उठा पाएंगी. सिर्फ औरतें ही नही बल्कि शादी होने पर मर्दों की भी समान हालत होती है. इसलिए ये लोग इस बाद का निर्णय नही कर पाते हैं कि कब बच्चे की प्लानिंग करनी है और फैमिली प्लानिंग के ऊपर विचार करना है. और इन सब को छोड़ कर वह निश्चिंत होकर सिर्फ रोमांस में व्यस्त रहते हैं.
लेकिन पति-पत्नी के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए बच्चे करने का भी एक निर्धारित समय होता है जो आपके उम्र पर निर्भर करता है. आज हम बताएंगे कि बच्चों की प्लानिंग कब करनी चाहिए इससे आपके मन मे उठने वाले सारे सवालों के जवाब भी मिल जाएंगे.

यदि आपकी शादी 20 साल से कम उम्र में हुई है तो गलती से भी बेबी प्लानिंग ना करें क्योंकि जल्दबाजी से सेहत बिगड़ सकता है. लड़कियों को 20 साल हो जाने के बाद ही प्रेग्नेंट होना चाहिए. ये समय एक दूसरे के साथ वक़्त बिताने का है ज्यादातर समय अपने परिवार के साथ बिताएं और रोमांस पर ध्यान दें. अगर परिवार वाले जल्दबाजी करें तो उनके दिमाग मे यह बात जरूर डालें की बच्चा आ जाने से आप एक दूसरे के साथ ज्यादा वक्त नही बिता पाएंगे इसलिये जरूरी है की उम्र 20 क्रॉस होने तक इंतजार किया जाए.

जिन दम्पतियों की शादी 20 से 25 साल की उम्र के बीच हुआ हो उन्हें बच्चे करने से परहेज नही करना चाहिए. ये समय बेबी के लिए परफेक्ट होता है और बच्चे की तंदुरुस्ती भी बनी रहती है. ऐसा है तो शादी के तुरंत बाद ही बच्चों की प्लानिंग शुरू कर दें. ये वो वक़्त है जब पति और पत्नी ज्यादा खुश होते हैं और पति के भीतर भी जिम्मेदारी उठाने की क्षमता आ चुकी होती है. पत्नी भी एक माँ की जरूरतें समझ चुकी होती हैं इसलिए बच्चे होना जरूरी है.
दहेज़ लेने वालों के मुँह पर तमाचा, दुल्हे ने माँगा भारी सोने का सेट तो दुल्हन ने जो किया देखकर रह गए सभी दंग
यदि आपकी शादी 25 से 30 साल के बीच हुई हो तो पहले ही काफी देर हो चुकी है अब बच्चे करने में देरी भूलकर भी मत करना. क्योंकि इस उम्र के बाद औरतों में फर्टिलिटी कम होना शुरू हो जाता है. यहां जल्दबाजी दिखाने से आपका परिवार ज्यादा खुश रहेगा। इस उम्र के दम्पतियों के बीच नोकझोंक थोड़ी ज्यादा होती है लेकिन उन सबको सिर्फ दिन में ही चलने दें रात में प्यार को प्राथमिकता दें.

वैसे दम्पति जिनकी शादी 30 से 35 की उम्र में हुई हो उन्हें सावधान होने की जरूरत है. यदि अब प्रेग्नेंट नही हुए तो आपकस लिए बुरी खबर भी आ सकती है क्योंकि ऐसे केस में महिलाओं के गर्भ ठहरने का चांस कम हो जाता है. एक बात का ध्यान रखें कि इस उम्र वाली औरतों को एक से ज्यादा बच्चे करना सही नही होता है. वरना माँ की जान पर भी ख़तरा मंडराने लगता है.

यदि आपकी शादी 35 से 40 वर्ष के बीच की उम्र में होती है तो अगले ही दिन से प्रेग्नेंट होने की ठान लीजिए. इससे पहले एक बार डॉक्टर से जरूर मिलें क्योंकि उम्र अधिक हो जाने से बच्चा अस्वस्थ हो सकता है. वैसे भी ऐसा मामला ज्यादा सामने आता है कि इस उम्र में पैदा होने वाले बच्चे कमजोर होते हैं इसलिए परिजन भी उम्र से पहले शादी करने पर जोर डालते हैं.