अध्यात्म

इस मकर संक्रांति पर महिलाएं कर लेंगी ये उपाय तो होगी अखंड सौभाग्य की प्राप्ति

साल 2018 की शुरुआत हो चुकी है, और खरमास खत्म होने वाला है। लोग मकर संक्रांति की तैयारियों में लगे हैं। लेकिन कुछ ही लोग जानते हैं कि इस बार मकर संक्रांति पर महासंयोग बन रहा है। 14 जनवरी को 100 साल बाद मकर संक्रांति पर महासंयोग बन रहा है। 14 जनवरी को सूर्यदेव सुबह 7 बजकर 38 मिनट पर मकर राशि में प्रवेश कर रहे हैं। संयोग की बात है कि संक्रांति रविवार के दिन पड़ रही है। रविवार के दिन मकर संक्रांति का होना एक दुर्लभ संयोग है। साथ ही 70 वर्ष बाद संक्रांति पर एक बड़ा महासंयोग बन रहा है। इस दिन सर्वार्थसिद्धि एवं रवि प्रदोष का योग भी बन रहा है। ऐसे में अगर खासकर महिलाएं ये एक काम कर लें तो उन्हें सौभाग्यवती होने का मौका मिलेगा।

मकर संक्रांति वैसे तो दान का दिन होता है क्योंकि खरमास खत्म होता है। लोग गरीबों को और कन्याओं को मूंगफली, गजक, पैसे दान करते हैं। साथ ही कुछ जगह मकर संक्रांति पर खिचड़ी बांटी जाती है। भंडारे किए जाते हैं, खास कर सुहागिन महिलाएं अगर दान करें तो ज्यादा पुण्य प्राप्ति के योग माने जाते हैं।

पंचाग के अनुसार मकर संक्रांति 14 और 15 दोनों दिनों पर पड़ रही है। इसका सबसे बड़ा असर मकर राशि में होने वाला है, 14 जनवरी को सूर्यदेव सुबह 7 बजकर 38 मिनट पर मकर राशि में प्रवेश कर रहे हैं। संयोग की बात है कि संक्रांति रविवार के दिन पड़ रही है। जिसके बाद सूर्य के स्थिती बदलने के साथ  ही खरमास खत्म हो जायेगा।

महिलाएं ऐसे करें उपाय

लगभग 80 साल पहले उन दिनों के पंचांगों के अनुसार मकर संक्रांति 12 या 13 जनवरी को मनाई जाती थी, लेकिन अब विषुवतों के अग्रगमन के चलते इसे 13 या 14 जनवरी को मनाया जाता है। इस साल मकर संक्रांति 14 जनवरी को बनाया जायेगा। इस बार की मकर संक्रांति परिजात योग में है। त्रयोदशी जैसा महासंयोग भी बन रहा है। ऐसे में पूजन व दान का कई गुना लाभ प्राप्त होने का योग है।  इस दिन उड़द दाल में खिचड़ी बना कर दान करें। सरसो के तेल में पूड़ियां तल के कुत्ते को खिलाने से लाभ मिलता है। गायत्री मंत्र का जाप अवश्य करें। इसके साथ ही महिलाएं सुबह उठकर स्नान करके सूर्य देव को जल चढ़ाएं। भगवान की पूजा कर काला तिल, गुड़ और खिचड़ी का भगवान को भोग लगायें। खासकर महिलाएं अगर 13 औरतों को श्रृंगार का सामान दान करेंगी। तो घर में सुख, शांति और समृद्धि मिलेगी, पति की दीर्घायु और अखंड सौभाग्य की प्राप्ति होगी।

पुरुष करें ये काम

मकर संक्रांति की सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि कामों से निपट कर सूर्य को अर्घ्य दें। अब पूर्व दिशा की ओर मुख करके कुश के आसन पर बैठकर रुद्राक्ष की माला से इस मंत्र का जाप करें। कम से कम 5 माला जाप अवश्य करें। इस प्रकार मंत्र जाप करने से जीवन की हर परेशानी दूर हो जाएगी। यदि इस मंत्र का जप प्रत्येक रविवार को किया जाए तो और भी जल्दी लाभ होता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close