8 ग्लास नहीं, जानिए वास्तव में उम्र के हिसाब से कितना पानी पीना है जरूरी

आमतौर पर ये सुनने को मिलता है कि सेहत के लिए हर व्यक्ति को लगभग 8 ग्लास पानी पीना चाहिए लेकिन वास्तव में शरीर के लिए आवश्यक पानी की मात्रा कई सारी बातों पर निर्भर करती है.. जैसे कि व्यक्ति के लिंग, उम्र, शारीरिक गतिविधियां और आस पास की जलवायु । ऐसे में ये जानना बेहद जरूरी है कि आपके उम्र और शारीरिक ढांचे के अनुसार कितना पानी पीना चाहिए ।

वैसे स्वास्थ्य विशेषज्ञ बताते हैं कि जिस व्यक्ति की दोनों किडनी ठीक ढंग से काम कर रही हों, उसे हर रोज अपने शरीर के वजन के अनुपात में प्रति एक किलोग्राम पर 30 मिलीलीटर पानी पीना चाहिए। इसके साथ ही आपको ये जानना चाहिए कि उम्र के हिसाब से शरीर को कितने पानी की आवश्यकता होती है । अक्सर जैसे-जैसे लोगों की  उम्र बढ़ती जाती है, वो पानी पीना कम कर देते हैं, लेकिन वास्तव में एक निश्चित मात्रा में पानी पीना शरीर के लिए बेहद आवश्यक है।तो चलिए आपको बताते हैं कि 1 साल से लेकर 60 साल तक के व्यक्ति को अच्छी सेहत के लिए कितना पानी पीना जरूरी है ।

दरअसल एक से आठ साल तक के बच्चों को लगभग 1.3 से 1.7 लीटर यानी पांच से छह ग्लास तक पानी रोजाना पीना चाहिए। इसके बाद 9 से 17 साल की उम्र तक के किशोरों को 12 ग्लास, यानी ढ़ाई लीटर के लगभग पानी जरूर पीना चाहिए। वहीं 18 वर्ष की युवा आयु से लेकर 60 वर्ष प्रौढ़ा आव्स्था तक के पुरूषों को 14 ग्लास यानी तीन लीटर पानी का सेवन रोज करना चाहिए। जबकि वहीं एक व्यस्क महिला को 2.2 लीटर यानी 10 गिलास के लगभग पानी रोज पीना चाहिए।

उम्र के अलावा व्यक्ति की शारीरिक गतिविधियां भी शरीर के लिए आवश्यक पानी की मात्रा तय करती हैं। जैसे अगर आप नियमित रूप से व्यायाम करते हैं तो निश्चित तौर पर आपके शरीर से पसीने के रूप में पानी भी ज्यादा निकलेगा.. इसलिए आपको उसकी पूर्ति के लिए ज्यादा पानी पीना चाहिए । इसके लिए आप आधे घंटे की एक्सरसाईज के बाद एक ये दो गिलास पानी का सेवन करना चाहिए । वहीं अगर आप अधिक समय तक या फिर गर्म माहौल में व्यायाम करते हैं तो आपको कम से कम तीन गिलास अतिरिक्त पानी पीना चाहिए।

दरअसल शरीर के लिए पानी की आव्शयकता आपके माहौल पर भी निर्भर करती है क्योंकि गर्म मौसम में पसीने के जरिए आपके शरीर से पानी की अधिकांश मात्रा बाहर निकल जाती है। ऐसे में इसकी पूर्ति के लिए व्यक्ति को अधिक पानी पीना चाहिए। इसके साथ ही अधिक ऊंचाई पर रहने वाले लोगों को भी सामान्य की अपेक्षा ज्यादा पानी पीना चाहिए, क्योंकि वहां ऑक्सीजन की कमी होने की वजह से सांस ज्यादा तेजी से चलती है जिससे उस दौरान नमी का ज्यादा नुकसान होता है। ऐसे में शरीर को ज्यादा पानी की आवश्यकता होती है।