मसाज पार्लर के नाम पर होते हैं गंदे काम, वेश्यावृत्ति के लिए पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है यह शहर

थाईलैंड के बारे में कौन नहीं जनता है। पूरी दुनिया में यह देश मौज-मस्ती के लिए मशहूर है। जिसे भी मौज-मस्ती करनी होती है, उसके दिमाग में पहला नाम थाईलैंड का ही आता है। थाईलैंड में ही एक शहर है पटाया, जो पूरी दुनिया में सेक्स टूरिज्म के लिए जाना जाता है। यह शहर दुनियाभर में वेश्यावृत्ति के लिए बदनाम है। ताजा आँकड़ों से यह बात सामने आयी है कि पुरे थाईलैंड में इस समय 28 हजार से ज्यादा वेश्याएं हैं। उसमें से ज्यादातर वेश्याएं इसी शहर में हैं।

हर साल इस देश की अर्थव्यवस्था को वेश्यावृत्ति से 5 बिलियन डॉलर यानी लगभग 40000 करोड़ रूपये का फायदा होता है। इस शहर में पिछले 25 सालों से काम करने वाले एक व्यक्ति ने बताया कि इस समय थाईलैंड का पटाया शहर वेश्याओं के साथ-साथ अपराधियों का भी अड्डा बना हुआ है। दुनिया के कई देशों के मशहूर अपराधी वहाँ से भागकर इसी शहर में पनाह लिए हुए हैं। यहाँ की पुलिस उन्हें छू भी नहीं सकती है। यहाँ की पुलिस किसी भी तरह का एक्शन लेने से बचती है।

पुलिस की इसी अनदेखी की वजह से यहाँ वेश्यावृत्ति की आड़ में ही कई और गैरकानूनी काम होते रहते हैं। यहाँ लोग पैसा कमानें के लिए किसी भी हद तक जानें को तैयार हैं। दुनिया के हर कोने से आने वाले सैलानियों की हर तरह की मांगों को यहाँ पूरा किया जाता है। ऐसे में यहाँ के युवतियों को भी इस गंदे काम में जबरदस्ती धकेला जा रहा है। एक जानकारी के अनुसार इस काम में 40 हजार से भी ज्यादा बच्चे संलिप्त हैं।

मसाज पार्लर की आड़ में यहाँ कई तरह के घिनौने काम किये जाते हैं। अकेले इस शहर में 1 हजार से भी ज्यादा मसाज पार्लर हैं। इसी बात से आप अंदाजा लगा सकते हैं कि जब एक शहर में इतने मसाज पार्लर हैं तो पुरे देश की क्या हालत होगी। यहाँ शराब के शौक़ीन लोगों को शराब के साथ ही एस्कार्ट सर्विस भी दी जाती है। इसके बाद एस्कार्ट पसंद आनें के बाद आगे की डील की जाती है। यहाँ पर वेश्यावृत्ति दिन-प्रतिदिन और तेजी से बढती ही जा रही है।

बढ़ती हुई वेश्यावृत्ति पूरी दुनिया में थाईलैंड की छवि को खराब कर रही है। इस समस्या से सरकार भी चिंतित है। हालांकि यहाँ की सरकार इसे लेकर अब तक कोई ठोस कदम उठानें में नाकामयाब रही है। 2016 में थाईलैंड की पहली महिला टूरिज्म मिनिस्टर कोबकर्न डब्ल्यू ने कहा था कि वे थाईलैंड से वेश्यावृत्ति हमेशा के लिए बंद करवाना चाहती हैं। इससे देश की छवि दुनिया में अच्छी बन सकेगी। वेश्यावृत्ति से होने वाले फायदे और लोगों की बेरोजगारी के बारे में सोचकर सरकार कुछ नहीं कर रही है।