बलोचिस्तान लिबरेशन आर्मी का चीन – पाकिस्तान EC पर अब तक का सबसे बड़ा हमला: कई चीनी – पाकिस्तानी घायल

अभी अभी मिली जानकारी के अनुसार बलोच लिबरेशन आर्मी ने चीनी – पाकिस्तानी इकनोमिक कॉरीडोर में बड़े हमले को अंजाम दिया है। खबरों के अनुसार कई चीनी इंजीनियर मारे गए है और उनकी लाशें अभी भी घटना स्थल में ही फंसी हुयी है। बलोचिस्तान लिबरेशन आर्मी (BLA) ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी है, और घटना की जिम्मेदारी भी ली है।

bluchistan-army-newstrend-27-09-16-2

बलोचिस्तान लिबरेशन आर्मी के अनुसार उसने बलोचिस्तान के विंदार किनराग इलाके में ग्वादर प्रोजेक्ट पर अबतक का सबसे बड़ा हमला किया है। इस प्रोजेक्ट में जुटे चीनी इंजीनियरों पर यह हमला किया गया है। हमले में कई चीनी इंजिनियरों के मारे जाने की सम्भावना है, अभी तक मृतकों की संख्या का सही सही पता नहीं चल पाया हैं। इस घटना में 19 चीनी और पाकिस्तानी घायल हुए हैं।

bluchistan-army-newstrend-27-09-16-3
इसके साथ ही बलोचिस्तान लिबरेशन आर्मी ने पाकिस्तानी सेना के मुखबिर ज़र मर्री और उसके तीन साथियों की हत्यायों की भी जिम्मेदारी ली है। हत्याएँ बलोचिस्तान के बोलन इलाके के शाहरग में की गई थी।
उरी में आतंकवादी हमले के बाद से सामरिक विशेषज्ञों ने यह उम्मीद जताई थी कि भारत सीधे तौर पर कुछ भी नहीं करेगा, जो होगा वह पाकिस्तान के अंदर से होगा। फिलहाल पाकिस्तान से युद्ध इसी तरह का ही होगा, पाकिस्तान ने अपने लिए बहुत दुश्मन बना लिए हैं। इस घटना के बाद से उम्मीद है कि चीन के पाकिस्तानी निवेश की कीमत भी इसी तरह बढ़ती जाएगी।

bluchistan-army-newstrend-27-09-16-4
सूत्रों की मानें तो चरमपंथी चीन और पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर की परियोजना में हर तरह से रुकावट डालना चाहते हैं। कुछ दिनों पहले भी ऐसी ही एक घटना की सूचना मिल रही थी, जिसमें करीब 44 लोगों के मारे जाने की खबर थी। आपको बता दें कि जिस कॉरिडोर पर बलोचिस्तान लिबरेशन आर्मी का हमला हुआ है, यह कॉरिडोर पाकिस्तान के सबसे अशांत इलाकों में से एक बलूचिस्तान से गुजरता है। इस प्रांत के चरमपंथी इसकी राह में रुकावट माने जाते हैं।