FB पर मिले प्यार ने बदली ज़िन्दगी, लोगों ने कहा ‘ऐसा किसी के साथ ना हो…’

नई दिल्ली: कहते हैं सच्चा प्यार जिंदगी बदल देता है. आज की युवा पीढ़ी फिल्मों में प्यार को देख कर असलियत से दूर होती नजर आ रही है. जैसे फिल्मों में हीरो हेरोइन को प्यार करते दिखाया जाता है, ठीक वैसे ही आज की जनरेशन भी प्यार को जीना चाहती है. परंतु, आज के बच्चे इस बात से वाकिफ नहीं हैं कि सच्चा प्यार तो बस फिल्मों में ही होता है. क्यूंकि, इस प्यार की हकीक़त बहुत कडवी होती है. इंटरनेट पर मौजूद सोशल साइट्स ने हर घर में बवाल मचा रखा है. आजकल जिसे देखो प्यार की परिभाषा देता नजर आ रहा है. लेकिन प्यार क्या है ये कोई नहीं जानता.

कुछ ऐसा ही अजीबो गरीब मामला हाल ही में हमारे सामने आया है.  जहाँ फेसबुक ने एक लड़की की जिंदगी बदल कर रख दी. दरअसल, 19 वर्षीय कनिष्का को फेसबुक पर साहिल नाम का लड़का मिला. धीरे धीरे दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई. लेकिन, कनिष्का इस बात से अनजान थी कि जिस लड़के के साथ वह पूरी जिंदगी बिताने के सपने देख रही थी, वही लड़का उसकी हंसती खेलती ज़िन्दगी को तबाह कर देगा.

आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि कनिष्का फिलहाल अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच में जूझ रही है. लड़की के परिजनों के अनुसार उनकी बेटी कनिष्का को उसके बॉयफ्रेंड ने चौथी मंजिला मकान से नीचे फेंक कर मारने की कोशिश की. जिसके कारण आज उनकी बच्ची  मौत से जंग लड़ रही है. पुलिस को दी गई जानकारी में पीडिता के परिवार ने बताया कि उनकी बच्ची कनिष्का दिल्ली यूनिवर्सिटी में सेकंड ईयर की स्टूडेंट है.

परिजनों के अनुसार लगभग दो महीने पहले कनिष्का की मुलकात फेसबुक पर साहिल नामक लडके से हुई थी. जिसके बाद दोनों काफी अच्छे दोस्त बन गए और मुलाकातों का सिलसिला ज़ारी रहा. मिली जानकारी के अनुसार वह दोनों अक्सर दिल्ली के करोल बाघ में मिला करते थे. धीरे धीरे दोनों के दिल एक दुसरे के लिए धडकने लग गए. इसके इलावा अभी हाल ही में साहिल ने कनिष्का को मोबाइल फोन भी गिफ्ट किया था. परंतु, उस वक्त तक कनिष्का भी अपने प्रेमी की असलियत से अनजान थी.

कनिष्का के परिजनों के अनुसार साहिल कनिष्का से अपने सारे रिश्ते खत्म करना चाहता था. इसी बीच 31 दिसम्बर की रात को साहिल और कनिष्का करोल बाग मिले. वहीँ साहिल उसको अपने घर की छत पर ले गया और उससे अपने फोन के पैसे मांगने लग गया. पैसे ना मिलने पर वह काफी भडक चुका था जिसके कारण उसने कनिष्का को पीटना शुरू कर दिया. उसी समय किसी तरह कनिष्का ने बचते बचाते अपनी माँ को फोन करके सारी बात बता दी.

वहीँ कनिष्का की माँ का कहना है कि उस रात को कनिष्का के फोन के बाद उन्हें पता चला कि वह छत से गिर गई है. जिसके बाद उन्होंने उसको बीएल कपूर अस्पताल में दाखिल करवा दिया. फिलहाल कनिष्का की हालत काफी गंभीर है और अभी तक उसको होश नही आया है. वहीँ परिवार के कहे अनुसार पुलिस ने इस मामले पर कारवाई शुरू कर दी है.