जनवरी में राहू के प्रभाव से होंगे कई लोगों के ब्रेकअप,जानिए किन-किन राशि के लोगों का टूटेगा दिल

नए साल की शुरुवात होने वाली है और जौनरी का महीना बेहद ही ख़ास है । यह महिना अपने आप में काफी ख़ास होता है। इसी महीने मकरसंक्रांति का त्यौहार आने वाला है और सूर्य देव अपनी दिशा बदलने वाले हैं इसके साथ ही जनवरी महीने का अपना ज्योतिष महत्व भी है। इस जनवरी का महिना कई लोगों के लिए ख़ुशी लेकर आ रहा है तो कईयों के ऊपर दुखों का पहाड़ टूटने वाला है।

कर्क और मकर राशि वाले प्रेमियों के बुरे दिन शुरू:

इस बार जनवरी का महिना प्रेमियों के लिए काफी दुखदायी महिना साबित होने वाला है। अलगाव की वजह राहू 18 तारीख से अपनी चाल बदल रहा है। इसके साथ ही प्रेमियों के ब्रेकअप का सिलसिला शुरू हो जायेगा। ज्योतिषशास्त्र की मानें तो इस बार जनवरी का महिना कर्क और मकर राशि वाले प्रेमियों के लिए लिए काफी बुरा होने वाला है।

कन्या और मीन राशियों वाले जातकों पर पड़ेगा सबसे ज्यादा प्रभाव:

राहू 18 जनवरी को सिंह राशी से निकलकर कर्क राशि में जायेगा, जबकि केतु कुम्भ राशि से निकलकर मकर राशि में प्रस्थान करेगा। ये दोनों ही गृह अगले 18 महीनों तक इन्ही राशियों में रहेंगे। ज्योतिषियों की मानें तो जब तक ये दोनों जिस भी राशि में रहेंगे, तब तक इन राशि वाले जातकों के सम्बन्ध टूटते रहेंगे। यदि आपकी जन्मकुंडली में कन्या और मीन लग्न उदित हो रहा है तो अफेयर के हिसाब से आपके ऊपर इसका सबसे ज्यादा प्रभाव पड़ेगा।

पांचवें भाव को देखा जाता है प्रेम संबंधों के रूप में:

मीन लग्न में राहू पांचवें भाव में आ जायेगा जबकि कन्या लग्न में केतु पांचवें भाव में जायेगा। ज्योतिषशास्त्र में पांचवें भाव को प्रेम संबंधों के रूप में देखा जाता है। जब इस घर में राहू या केतु में से कोई एक भी रहता है तो प्रेम संबंधों को काफी नुकसान पहुँचता है। ये आपके प्रेम संबंधों को खराब करने का काम करते हैं। इस वजह से इन राशियों वाले लोगों को अब अपने प्रेम संबंधों को लेकर थोड़ा सजग रहने की आवश्यकता है। बेवजह रिश्तों के टकराव से बचने की कोशिश करें।

मेष और तुला राशियों वाले प्रेमियों के दिन सुधरेंगे:

राहू के राशि परिवर्तन करने से कन्या और मीन राशि वाले लोगों के प्रेम संबंधों को काफी नुकसान होगा। वही दूसरी तरफ पहले से ही इनकी वजह से परेशान चल रहे तुला और मेष राशि के जातकों को थोड़ी राहत मिलेगी। इन राशियों वाले लोगों के लिए प्रेम के नए रास्ते खुलेंगे या उनका पुराना प्रेम-प्रसंग पुनः जीवित हो सकता है। ज्योतिषियों का मानना है कि ऐसा इसलिए होगा क्योंकि तुला राशि में पांचवें घर से इस समय केतु का प्रभाव है। मेष राशि वाले जातकों के पांचवें भाव में राहू गोचर कर रहा है। इन दोनों राशियों से राहू-केतु का प्रभाव ख़त्म होने की वजह से इनके प्रेम सम्बन्ध सुधर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.