सेक्स के लिए नहीं बल्कि किसी और काम के लिए इस गाँव के लोग करते है दूसरी शादी

भारत के गावों में आज भी ऐसी प्रथा है जिसमें गाँव के पुरुष एक से अधिक शादी करते है. ऐसा ही एक गाँव है मुंबई के निकट स्थित देंगनमल. यहाँ के पुरुष भी दो शादी कर रहे है. जिस पर गाँव के पंचो की भी सहमती है. ऐसा नहीं है कि इस गाँव में ये प्रथा सालो से चल रही हैं. ये प्रथा हाल ही के कुछ वर्षों से इस गाँव में शुरू हुई है.

जब आप यहाँ के लोगों की दो शादी करने की वजह जानेगे तो हैरान रह जायेंगे. दरसल यहाँ के लोग दो शादी इसलिए कर रहे है क्यूंकि इस गाँव में पानी की बहुत कमी है. अब आप ये सोचेंगे कि पानी की कमी के चलते लोग दो शादी क्यूँ कर रहे है. दरअसल यहाँ के लोग इसलिए दूसरी शादी करते है की उनकी दूसरी पत्नी उनके परिवार के लिए पानी भर कर ला सके. गाँव के लोग इन्हें जल्पत्निया कहते है.

इस गाँव में पानी की इतनी कमी है कि ये जल्पत्निया रोजाना 6 किलोमीटर चल कर गाँव का चक्कर लगा कर पानी भर कर लाती है. इन महिलाओ का आधा दिन तो सिर्फ़ पानी लाने में लग जाता है. ये जल्पत्निया विधवाये होती है. जिनका काम सिर्फ़ पानी भर के लाना होता है. इन्हें किसी भी प्रकार से अन्य कोई सुविधा नहीं दी जाती है. ये अपने पति के साथ शारीरिक सम्बन्ध भी नहीं बना सकती है.

भारत में इस तरह की प्रथा हमें सचेत कर रही है की अगर इसी तरह हमने अपने प्राकृतिक संसाधनों का दुरपयोग किया और समय रहते इसे नहीं रोका न वो दिन दूर नहीं जब भारत के बहुत से गाँव देंगनमल बन जायेंगे. हाल ही में बुंदेलखंड, विदर्भ और मराठवाडा में हम पानी की कमी की इस विभीषिका को देख चुके है जब सरकार को ट्रेन की मदद से इन इलाकों में पानी पहुंचाना पड़ा. आने वालो दिनों में ये स्थिति और भी भयावह हो सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.