ब्रेकिंग न्यूज़

पाक कलाकारों को MNS की धमकी के बाद, सोशल मीडिया पर छिड़ी बहस

मुंबईः  भारत में उरी हमले के बाद पाकिस्तान के विरोध में पूरे देश भर से आवाज़ उठ रही है। भारत वासियों का मानना है कि अब बस बहुत हो गई सहनशीलता, बहुत हो गयी पाकिस्तान से संबंध सुधारने कि कोशिश। आज़ादी के बाद से ही हम यही कोशिश करते आ रहे हैं मगर क्या मिला ? भारत में  रह रहे पाकिस्तानी कलाकारों का भी जमकर विरोध किया जा रहा है। लोगों ने अपना गुस्सा सोशल मीडिया जमकर निकाला। वहीं मुंबई में एमएनएस [MNS threat Pakistan artists] ने पाकिस्तानी कलाकारों को 48 घंटे के भीतर भारत छोड़ने की चेतावनी दी है।

किस बात पर हो रही है बहस –

भारत की जनता का मूड है की भारत में पाकिस्तानी कलाकारों और पाकिस्तान के सभी लोगों का बहिष्कार किया जाए और उनको भारत से निकाल कर उनके आतंकवादी देश में वापस भेजा जाये क्योंकि सैनिको के खून पर मनोरंजन केवल शैतानो को ही मंजूर हो सकता है।

एक बड़ा सवाल ये भी है की आखिर इन पाकिस्तानियों को भारत में ला कौन रहा है, ये खुद तो भारत में घुस नहीं रहे जाहिर है की इनको भारत में बैठे पाकिस्तान प्रेमी ही काम दे रहे है, भारत में बुलाकर करोड़ो रुपए पाकिस्तान भिजवा रहे है पाकिस्तानी वही पैसा पाकिस्तान सरकार को टैक्स के रूप में पहुँचा रहे है और पाकिस्तानी सरकार हमारे सैंनिको का कत्लेआम कर रही है।

लोगों का कहना है हम पाकिस्तानी कलाकारों का बहिष्कार करें, न सिर्फ उनका बल्कि उनको जो काम दे रहे हैं उनका भी । लोगों का कहना है कि अब पाकिस्तान कलाकारों को भारत में पनाह देने कि ज़रूरत नहीं है ।

जहां पाकिस्तान को विश्वमंच पर आतंकी राष्ट्र घोषित कराये जाने कि मांग उठ रही है वहीं भारत में इन पाकिस्तानी कलाकारों के बहिष्कार को लेकर मांग तेज़ हो रही है।

निशाने पर शाहरुख़ की “रईस” और करण जोहर की “ऐ दिल है मुश्किल”  –

इस बहस में शाहरुख़ खान की “रईस” और करण जोहर की “ऐ दिल है मुश्किल” को निशाना बनाया जा रहा है। जहाँ “रईस” में शाहरुख़ खान ने माहिर खान नाम की पाकिस्तानी अभिनेत्री को लिया है वहीँ “ऐ दिल है मुश्किल” में फवाद खाँन को लिया गया है। लोग हक रहें हैं कि भारत में कलाकार, हीरो या हेरोइनों कि कमी नहीं है। फिर क्यों हम पाकिस्तानी कलाकारों को भारत में बढ़ावा दे रहें हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close