राजनीति

नीचे दादी के साथ खेल रहे थे मासूम, और ऊपर बाप ने कर दिए माँ के 7 टुकड़े

रोहतक: इस बात में कोई दो राय नहीं है कि आज के इस कलयुगी दौर में अपने ही अपनों की जान के दुश्मन होते जा रहे हैं.  लोग इतने सेल्फिश हो गए हैं कि उन्हें किसी दूसरे से कुछ लेना देना ही नहीं रहा.  ऐसा ही कुछ मामला हाल ही में हमारे सामने आया है.  जहां एक महिला की डेड बॉडी के तीन टुकड़े पाए गए थे.  लेकिन अभी कुछ ही दिन पहले पुलिस ने मृतिका के पति राजकुमार उर्फ राजू को गिरफ्तार कर मामले का खुलासा कर दिया है.  दरअसल, राजू ने अपनी ही पत्नी के 7 टुकड़े कर दिए थे. जिसके बाद उसने उन टुकड़ों को अलग-अलग जगह फेंका था.  फिलहाल पुलिस को उन  टुकड़ों में से तीन टुकड़े मिल चुके हैं.  जानकारी के अनुसार यह मामला लव इन रिलेशनशिप का है.  राजू की पत्नी अनबन के बाद पिछले 5 महीने से अपने नंदोई के साथ रिलेशनशिप में रह रही थी.  इसके अलावा उसके दो बच्चे थे, जो अपनी दादी के पास रहते थे.  रिपोर्ट के अनुसार 13 नवंबर की दोपहर को गीतांजलि कैथल से गांधी कैंप में अपने ससुराल सर्दी के कपड़े लेने के लिए पहुंची थी.  ऐसे मैं घर पर सिर्फ पति राजू ही अकेला था. चलिए जानते हैं आखिर यह पूरा मामला क्या था…

मिली जानकारी के अनुसार गीतांजलि अपने पति राजकुमार के घर सर्दी के कपड़े लेने गई थी. वहां तकरीबन 4:00 बजे के करीब दोनों में कहासुनी हो गई. इस लड़ाई में राजू गुस्से में भड़क गया और उसने अपनी पत्नी को दीवार पर दे मारा.  जिसके बाद सिर पर गहरी चोट लगने के कारण पत्नी की मौके पर ही मौत हो गई.  पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में राजू ने बताया कि उसने पत्नी की मौत के बाद उसकी डेट बॉडी को उसने आरी के साथ टुकड़ों में बांट दिया.

राजू ने बताया कि उसने अपनी पत्नी का सिर,छाती से ऊपर का हिस्सा,  टांगे और हाथ पैर अलग अलग कर दिए.  राजू ने बताया कि उस वक्त उसके बच्चे नीचे दादी के साथ खेल रहे थे,  जब वह अपनी पत्नी के खून को ऊपर साफ कर रहा था.  इसके बाद राजू ने टुकड़ों को कपड़े में लपेटकर बैग में डाल दिया और तीन अलग-अलग जगह पर टुकड़े फेंक दिए.  जिसके बाद पुलिस को शक हुआ कि यह टुकड़े एक ही महिला के हैं.

यहां से मिले शव के तीनों हिस्से

मकड़ौली:  पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में राजू ने बताया कि वह सबके हिस्से रखकर ऑटो में मकड़ौली पहुंचा.  यहां उसने पत्नी की छाती का ऊपरी हिस्सा फेंक दिया.  जिसके बाद यह हिस्सा पुलिस को 21 नवंबर वाले दिन मिल गया.  इसके साथ ही पुलिस को उस बेड के साथ चादर , लेडीस टीशर्ट और बनियान भी प्राप्त हुई.

जेएलएन नहर:  राजू ने बताया कि उसने पत्नी के सिर, हाथ और पैर एक बैग में डालकर जेएलएन नहर में फेंक दिए.  जिसके बाद 1 दिसंबर को दादरी नहर में उसकी पत्नी का एक पैर बरामद हुआ.

शुगर मिल एरिया: राजू ने बताया कि उसने बाकी बचे छाती के नीचे घुटने वाले हिस्से को एक पुरानी शुगर मिल के एरिया में फेंक किया था. जिसके बाद पुलिस को 11 दिसंबर वाले दिन लेडीस लोगों और एक कट्टा बरामद हुआ था.

इस घटना के बाद गीतांजलि के नंदोई राकेश ने पुलिस को उसके लापता होने की शिकायत दर्ज करवाई.  जिसके बाद उसने पुलिस के पास पहुंच कर गीतांजलि के शव और उसके साथ मिली चीज़ों की शिनाख्त कर ली.  राजू ने पुलिस को बताया कि उसने पत्नी के हिस्सों को फेंक कर घर जाना ही बेहतर समझा और वह रात भर अपने घर ही सोया.  लेकिन पुलिस को सबके हिस्से मिलने के बाद वह सतर्क हो गया था. परंतु, पुलिस ने उसको डी पार्क के पास गिरफ्तार  कर लिया.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close