विशेष

दिल्ली मुसीबत में और आप के सभी नेता छुट्टी पर

जी हां, डेल्ही में फिर से डेंगू और चिकनगुनिया के केस बढ़ते जा रहे मंगलवार को मिली रिपोर्ट के अनुसार चिकनगुनिया से दिल्ली में 3 लोगों की मौत हो गयी। दिल्ली में अस्पतालों की हालत बहुत खस्ता हो चुकी है और सभी स्वस्थ्य केंद्र मरीजों से लबालब भरे हुए हैं।

ऐसे समय में जब दिल्ली सरकार को कोई ठोस कदम उठाना चाहिए, तो खबरों से पता चलता है कि दिल्ली का कोई मंत्री वहां मौजूद ही नहीं है। सिर्फ जलमंत्री कपिल मिश्रा को छोड़ दें तो कोई भी आप मंत्री दिल्ली में मौजूद नही है।

अब आप ये भी जान ले की ये मंत्री कहाँ है, तो सबसे पहले आते है दिल्ली सरकार के मुख्यमंत्री और आप सुप्रीमो अरविन्द केजरीवाल जो की खासी और गले की बीमारी से निजात पाने के लिए इलाज हेतु बैंगलोर गए हुए है और वहाँ से भी इनकी दिल्ली आने की योजना नहीं है वरन आने वाले चुनावों के मद्देनजर वो सीधे पंजाब का रुख करेंगे।

वही आप पार्टी में द्वितीय स्थान रखने वाले मनीष सिसोदिया फ़िनलैंड में है। गोपाल राय छत्तीसगढ़ में हैं। इमरान हुसैन है के लिया मक्का गए हुए हैं।

अब अगर इन सभी नेताओं को छोड़ भी दिया जाये तो मुसीबत की इस घड़ी में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन को तो दिल्ली में होना चाहिए, लेकिन वो भी गोवा के दौरे पर हैं। कारन यहां भी वही हैं आगामी चुनाव। लगता है केजरीवाल के लिए दिल्ली की जनता से ज्यादा चुनावों में जीत जरुरी है।

ऐसी मुसीबत की घडी में यह सवाल बहुत जरुरी है कि मानतें है हज और इलाज जरुरी हो सकता है, लेकिन क्या दूसरे राज्यों के चुनावी रैलियां भी दिल्ली के लोगों की जान से ज्यादा जरुरी हो गई है।

Related Articles

Close