क्यों लोग वेनिस कार्निवल में घूमते हैं चेहरे पर मास्क लगाकर? क्या है इसकी ख़ासियत? जानें

हर देश की अपनी अलग-अलग संस्कृति और परम्पराएं हैं। इसी तरह से हर देश के अलग-अलग त्यौहार भी हैं। जिस तरह से भारत में होली, दिवाली और ईद प्रमुखता से मनाई जाती है, ठीक उसी तरह से अलग-अलग देशों की परम्परा के हिसाब से वहाँ भी अलग-अलग त्यौहार मनाया जाता है। लेकिन इन्ही में से कुछ त्यौहार ऐसे भी हैं जो काफी लोकप्रिय हैं और पूरी दुनिया के लोग इनके बारे में जानते हैं। भारत में मनाई जाने वाली होली-दिवाली पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है।

अब तो विदेशी लोग भी होली-दिवाली मानने लगे हैं। ऐसा ही एक त्यौहार इटली में मनाया जाता है, जिसे वेनिस कार्निवल के नाम से जाना जाता है। इस त्यौहार की ख़ासियत यह है कि इसे पुरे इटली में माना जाता है। इस त्यौहार को लेकर इटली में कुछ साल पहले विवाद भी उत्पन्न हो गया था। सिविल सोसाइटी का कहना था कि चेहरों को मास्क से छुपा लेने के बाद व्यक्ति की पहचान छुप जाती है।

इससे समाज में अपराधों को बढ़ावा मिलता है। जबकि वहीँ कुछ लोगों का यह कहना था कि इन बनावटी चेहरों को देखकर बच्चे डर जाते हैं। हालांकि इस कार्निवल को लेकर इटली में लोगों के अपने-अपने मत है, लेकिन आज भी यह त्यौहार पुरे हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। आज हम आपको इस कार्निवल से जुडी कुछ ख़ास बातों के बारे में बताने जा रहे हैं।

*- आपको बता दें इस बार वेनिस कार्निवल 27 जनवरी से लेकर 13 फ़रवरी तक मनाया जायेगा।

*- इस कार्निवल में हिस्सा लेने वाले सभी लोग अपने चेहरे पर मास्क लगाकर घूमते हैं, जिससे उनकी पहचान सामने ना जाये।

*- इस कार्निवल में कई तरह की प्रतियोगिताएं की जाती हैं और सबसे अनोखे ड्रेस पहनने वाले को इनाम भी दिया जाता है।

*- कार्निवल में सभी मास्क अलग-अलग तरह के होते हैं और सभी मास्क का मतलब अलग-अलग होता है।

*- आपको जानकर काफी हैरानी होगी कि वेनिस कार्निवल में हर बार 3 लाख से ज्यादा लोग हिस्सा लेते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

twelve + twenty =