वॉशरूम में कोई है! व्हाट्सअप में व्यस्त रही टीचर, बच्ची के साथ हो गई दो बार दरिंदगी

गुड़गांव के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में हुई प्रद्युमन की हत्या जहां विभत्स थी, वहीं दूसरी तरफ टीचरों को भी जगाने और सचेत करने वाली थी। ताकि दोबारा किसी स्कूल में प्रद्युमन जैसी घटना न हो, लेकिन लगता है, एनसीआर के स्कूलों ने इसका कोई संज्ञान नहीं लिया। तभी तो गाजियाबाद के एक स्कूल में बच्ची के साथ दो बार दरिंदगी हुई। पहली बार दरिंदगी के बाद बच्ची ने टीचर को जाकर बताया था। लेकिन टीचर मोबाइल फोन में व्यस्त थी। दूसरी बार जब बच्ची के साथ वही सब दोहराया गया तो उसने मां बाप को बताया तो पूरी घटना का खुलासा हुआ।

घटना के बाद बच्ची की मानसिक हालत इतनी खराब हो गई है कि वो अब वॉशरूम जाने तक से बच रही है। अस्पताल में भर्ती बच्ची के पिता ने बताया कि  उनकी बेटी इस घटना के बाद काफी डरी हुई है और उसकी तबीयत ठीक नहीं है। बच्ची वॉशरूम की तरफ जाने में डर रही है। वॉशरूम की तरफ जाने के दौरान वह कहती है, वहां कोई है। बच्ची के प्राइवेट पार्ट पर जख्म होने से वह दर्द में है। उसे मेडिकल के लिए जाया गया तो वह फूट-फूटकर रोने लगती है।

पिता का आरोप है कि स्कूल में पढ़ने वाले छठी कक्षा के छात्र ने बेटी के साथ दो ह दरिंदगी की। पहले 8 नवंबर को, उसके बाद दो बार और गलत हरकत की। पिता का आरोप है कि 8 नवंबर के बाद उनकी बेटी ने क्लास में एक टीचर को बताने की कोशिश की, लेकिन टीचर मोबाइल में बिजी रहीं और उसकी बात नहीं सुनी। इसके बाद छात्रा का कोई रिएक्शन न होने से आरोपी छात्र के हौसले और बढ़ गए। जिसके बाद आरोपी छात्र ने दो बार और उसके साथ गंदी हरकत की। पिता ने पुलिस के सामने भी इस बारे में जानकारी दी। इसके बाद बच्ची ने जिस टीचर को छात्र की हरकत के बारे में बताने की कोशिश की थी, उससे भी पुलिस ने पूछताछ की।

स्कूल में हुई पहली कक्षा की छात्रा ने परिजनों को पूरी घटना बताई। लड़की के अनुसार 8 नवंबर को स्कूल के दो छात्रों ने स्कूल के वॉशरूम में बच्ची के साथ दुष्कर्म किया। आरोपी छात्रों ने छात्रा के प्राइवेट पार्ट में लकड़ी का टुकड़ा डाला। जिसके बाद छात्रा रोती हुई अपनी क्लास में पहुंची और अपनी दोस्त को साथ लेकर दोबारा वॉशरूम में पहुंची तो वहां मौजूद आरोपी छात्र ने पीड़िता की दोस्त को मारकर भगा दिया और फिर से छात्रा के प्राइवेट पार्ट में लकड़ी का टुकड़ा डालकर भाग गया। छात्रा रोती हुई क्लास में पहुंची और टीचर को घटना की जानकारी दी। छात्रा के बताने के बाद भी टीचर ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया। जिसके बाद घर पहुंची छात्रा ने जब पेट दर्द और अपने साथ हुई दरिंदगी की कहानी परिजनों की बताई। जिसके बाद परिजनों ने छात्रा को अस्पताल में भर्ती कराया और पुलिस से मामले की शिकायत की। जिसके बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरु कर दी है।