बड़ी ख़बर: एक बार फिर सोने की कीमतें सरकी नीचे, जानिए कितना सस्ता हुआ 1 तोला सोना

स्त्रियों के सौंदर्य में चार चांद लगाने के लिए सोना सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है. दूसरे शब्दों में से कहें तो औरतों की भूख सोने से ही मिटती है लेकिन अगर ऐसी बात है तो आपके लिए एक बड़ी खुशखबरी दौड़ते हुए आ रही है. वो खुशखबरी यह है कि सोना के दाम में भारी गिरावट आई है वहीं चांदी भी अपने निर्धारित कीमत से नीचे आ चुका है. अब इसे वैश्विक बाजार की कमजोरी कहें या लगन की प्रभाव से ज्वेलर्स की मांग में बढ़ोतरी कहें पर दिल्ली शहर के सर्राफा बाजार में लोगो की भीड़ उमड़ पड़ी है और हो भी क्यों न सोना किसे पसंद नही तो क्या आप जानते हैं अब 10 ग्राम सोने की कीमत? अगर नहीं तो चलिए इस ख़बर में जानते हैं सोने की नई कीमतों के बारे में…

विश्व बाजार से आई सबसे बड़ी खबर यह है कि सोना की कीमत में 300 रुपयों की गिरावट होने के बाद 30200 रुपये प्रति तोला वहीं चांदी की कीमत में 150 रुपयों की गिरावट होने पर 39000 रुपये प्रति KG हो गया है. अर्थशास्त्रियों द्वारा यह बात सामने आ रही है कि सिक्का निर्माताओं द्वारा कमजोरी प्रस्तुत किया गया जिसके नतीजन इन ज्वेलर्स की कीमतों में भारी गिरावट आई है.

जब सोना के सस्ते होने की वजह के बारे में व्यापारियों से पूछताछ की गई तो उन्होंने डॉलर को मजबूत बताया है जिसके प्रतिद्वंद्वी की कमी होने पर वह हमेशा से सोना के ऊपर भारी पड़ता है. वहीं कुछ व्यापारियों का कहना है कि घरेलू बाजारों और रिटेलर्स के बीच पीले धातुओं की मांग कम हो गयी है इसलिए उसे बढ़ाने के लिए विश्व बाजार ने ऐसा कदम उठाया है.

मिली जानकी के अनुसार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देखा जाए तो दुनिया के अन्य देशों की करेंसी भी बुरी तरह प्रभावित हुई है. सिंगापुर के बाजार में सोने की कीमत में 0.46 प्रतिशत की कमी आयी है तो दूसरी ओर चांदी की कीमत में भी 0.40 प्रतिशत की कमजोरी आंकलित की गई. भारत बीबी विश्व बाजार में अपना करतब दिखाने में पीछे नही रहा और इसके साथ ही हम आपको बता दें कि दिल्ली में देश का सबसे शुद्धतम सोना बिकता है जो कि आंकड़ो से पता चलता है कि यहां 99.9 प्योर सोना व 99.5 प्योर चांदी मिलता है पर यहां भी कीमतों में भारी गिरावट आई है.

बीते साल की बात करें तो सोना एवं चांदी की कीमतों में 250 रुपयों की उफान देखने को मिली थी वहीं इस साल के अंत मे फिर से सपने की कीमत को लगाम लगा दिया गया. बहरहाल, इस अचानक से आई कीमतों में गिरावट से कईं देशों की मुद्रायों के साथ साथ आम इंसान में भी काफी हलचल देखने को मिल रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.