पीरियड्स को रेगुलर कर देते हैं ये घरेलू उपाय, यकीन नहीं तो आजमा कर देखें

माहवारी सही टाइम पर न आना कई लड़कियों में एक आम समस्या है. लेकिन कई महिलाएं इस वजह से तनाव में आ जाती हैं. यह ज़रूरी नहीं कि यह हमेशा समय पर आये. कई बार ये 1-2 दिन आगे पीछे भी हो जाती है जो बिल्कुल नार्मल है. समय और नियमित रूप से माहवारी का आना महिला की स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है. पर कुछ महिलाओं को मासिक धर्म की अनियमितता यानी इर्रेगुलर पीरियड्स से भी गुज़रना पड़ता है. यदि आपके पीरियड्स समय से बहुत पहले आ जाते हैं या बहुत लेट हो जाते हैं तो इससे आपके सेहत पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ सकता है. इर्रेगुलर पीरियड्स की समस्या होने पर महिला को पेट में दर्द का भी बहुत ज़्यादा सामना करना पड़ता है और साथ ही गर्भाशय में भी दर्द का अनुभव होता है. अनियमित पीरियड्स को कभी भी अनदेखा नहीं करना चाहिए. अनदेखा करने पर आगे चलकर यह गंभीर समस्या का रूप ले सकती है.

पीरियड्स अनियमित होने के कारण-

  • पोषक तत्वों की कमी या ग़लत खान-पान
  • मानसिक तनाव
  • वजन घटना या बढ़ना
  • हार्मोनल इमबैलेंस
  • दवाईयों का सेवन
  • ज्यादा एक्सरसाइज
  • किसी प्रकार का नशा
  • स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं

पीरियड्स लाने के घरेलू उपाय –

 

यदि आपको अनियमित पीरियड्स की समस्या है तो रोज़ाना 8-10 ग्राम आजवाइन को अच्छे से चबाकर उसका सेवन करें और उसके बाद एक गिलास दूध पी लें, आपको फायदा मिलेगा.

दालचीनी का 4 से 5 ग्राम पाउडर लेकर पानी में मिलाकर नियमित इसका सेवन करें. इससे आपको अनियमित माहवारी की समस्या से राहत पाने में मदद मिलेगी. इसके साथ ही आपको मासिक धर्म में होने वाले दर्द की समस्या से भी छुटकारा मिलेगा.

राई यानी सरसों के कुछ दानों को पीसकर इसका चूरन बना लें और उसके बाद अपने आहार में इसे शामिल करें. नियमित रूप से इसे अपने खाने के कुछ निवालों में डालकर खाने की आदत डालें, फायदा मिलेगा. दिन में कम से कम दो बार गाजर के रस में डालकर इसका सेवन करें, जल्द फर्क दिखेगा.

20 ग्राम तिल को एक गिलास पानी में अच्छे से उबाल लें. जब पानी आधा हो जाए तो इसमें गुड़ मिलाकर इसका सेवन करें. इससे आपको अनियमित माहवारी और होने वाले दर्द से राहत मिलेगा.

तुलसी के पत्तों को अच्छे से पानी में उबाल लें. पानी के ठंडा हो जाने पर नियमित रूप से उसका सेवन करें. इससे आपकी अनियमित माहवारी की समस्या दूर हो जायेगी.