पापा की जान बचाने के लिए इस लड़की ने जो किया, वो जानकर आप रो पड़ेंगे आप

एक बार किसी ने कहा था कि दुनिया में किसी इंसान के लिए उसके ‘माता-पिता’ ही सब कुछ होते हैं और दुनिया में सबसे बड़ी दौलत किसी का माता-पिता होना होता है। वे हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होते हैं, जिन्हें हम सबसे अधिक पसंद करते हैं। लेकिन, आज के दौर में ये बातें कहीं खो सी गई हैं। भागम-भाग भरी जिंदगी में लोगों के लिए अपने माता-पिता के लिए वक्त की कमी है। लेकिन, आज हम आपको एक ऐसी कहानी बताने जा रहे हैं जो माता-पिता और उनके बच्चों के बीच प्रेम को दिखाती है। यह एक लड़की की कहानी है, जिसने अपने पिता के जीवन को बचाने के लिए अपना लीवर दे दिया दिया। Girl donated liver to her father.

लड़की ने लीवर देकर बचाई पापा की जान

दुनिया में अक्सर लोग बेटे की चाह रखते हैं और समझते है कि बेटियां तो उनके लिए बोझ हैं, जो एक दिन उन्हें छोड़कर चलीं जाएंगी। कुछ लोगों को शायद ये भी लगता है कि वो उनके किसी काम नहीं आयेंगी। जबकि, कभी कभी हमारे सामने ऐसी बातें आ जाती हैं जब बेटियाँ बेटों से भी कहीं ज्यादा अपने माँ बाप के लिए कर जाती हैं। ऐसा ही एक वाक्य हाल ही देखने को मिला जब जो इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। जिसमें एक लड़की ने उन लोगों की आंखे खोल दी जो ये सोचते थे कि लड़कियां उनके लिए एक बोझ हैं। इस लड़की ने अपने शरीर का एक हिस्सा अपने पापा की जान बचाने के लिये दे दिया।

डॉक्‍टर ने बताई उस बहादुर लड़की की कहानी

हम जिस लड़की की बात कर रहे हैं उस लड़की का नाम पूजा बिजारनिया है। दरअसल, पूजा पापा का एक लीवर खराब हो गया था। डॉक्टर ने कहा था कि उनका लीवर बदलना होगा और अगर ऐसा नहीं किया गया तो उनका बचना मुश्किल है। फिर पूजा ने वह काम कर दिखाया है जिसे लड़के भी करने से घबराते हैं। पूजा ने अपना एक लीवर दान कर अपने पिता की जान बचा ली। इस बात से पूजा का लीवर ट्रास्प्लांट करने वाले डॉक्टर इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने अपने फेसबुक पर एक पोस्‍ट कर लोगों को इस बात की जानकारी दी। डॉक्टर ने बताया कि किस तरह पूजा इतनी बड़ी सर्जरी करवाने से ज़रा सा भी नहीं हिचकी।

वायरल हो रहा है FB पोस्‍ट

पूजा का लीवर ट्रांस्प्लांट करने वाले डॉक्टर ने अपने फेसबुक पर एक पोस्‍ट कर लोगों को इस बात की जानकारी देते हुए लिखा, ‘बहादुर लड़की: असल जिंदगी में ऐसे सच्‍चे हीरो कम होते हैं जो किस्‍मत, डर और नामुमकिन जैसे शब्‍दों पर भरोसा नहीं करते। यह उन लोगों को लिए एक सबक है जो लड़कियों को बेकार समझते हैं।  आपको बता दें कि इस लड़की ने वाकई में दुनिया के सामने एक मिसाल पेश किया है कि लड़कियां वक्त आने पर लड़को से ज्यादा हिम्मत दिखा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.