प्रदूषण कम करने के लिए केजरीवाल ने की हेलिकॉप्टर से पानी बरसाने की मांग, केंद्र ने दिया ये जवाब..

दिल्ली में प्रदूषण एक बेहद गंभीर समस्या बन चुका है। ‌राजधानी दिल्ली और आसपास के इलाकों में प्रदूषण के चलते हालत बेहद चिंताजनक हो गए है। दिल्ली में हवा की गुणवत्ता बिल्कुल खराब हो चुकी है तथा प्रदूषण का स्तर भी आपात स्थिति के काफी करीब पहुंच गया है। लोगों को इस मुश्किल से बचाने के लिए राज्य सरकार भी लगातार कोशिशें कर रही हैैं, प्रदूषण को कम करने के लिए केजरीवाल सरकार नए नए हथकंडे अपना रही है।

केजरीवाल ने की हेलिकॉप्टर से पानी बरसाने की मांग :

केजरीवाल ने केंद्र सरकार को पत्र लिखकर यह मांग की है कि दिल्ली का प्रदूषण खत्म करने के लिए हेलीकॉप्टरों से पानी बरसाया जाए जिससे प्रदूषण पर काबू पाया जा सके। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए सीएम केजरीवाल ने एक्सपर्ट्स की सलाह पर वादा किया था कि वे हेलीकॉप्टर की मदद से दिल्ली के उन इलाकों में कृत्रिम बारिश कराएंगे जहां धुंआ का असर ज्यादा होगा।

इसी के चलते उन्होंने पत्र लिखकर मांग की थी कि दिल्ली में खतरनाक रूप धारण कर चुके प्रदूषण को खत्म करने के लिए शहर के ऊपर हेलीकॉप्टरों से पानी बरसाया जाए। लेकिन पर्यावरण राज्य मंत्री महेश शर्मा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की उस मांग को खारिज कर दिया है।

महेश शर्मा ने खारिज कि केजरीवाल की मांग :

महेश शर्मा ने केजरीवाल की मांग को खारिज करते हुए कहा है कि उन्हें पहले प्रदूषण कम करने के लिए जो आसान और प्रैक्टिकल उपाय हैं उन पर गौर करना चाहिए, जैसे पब्लिक ट्रांसपोर्ट के लिए बसों की संख्या बढ़ाना, ट्रैफिक को नियंत्रित करना और इस बात का इंतजाम करना की सड़कों की सफाई मशीनों से इस तरह से की जाएगी धूल ना उड़े और कहीं भी कूड़ा ना जलाया जाए। केंद्रीय मंत्री शर्मा ने यह भी कहा की प्रदूषण की वजह से दिल्ली में जो बुरा हाल हुआ है उसकी जिम्मेदारी से राज्य सरकारें भी नहीं बच सकती क्योंकि कानून बनाना केंद्र सरकार का काम है लेकिन उसे लागू करना राज्य सरकारों की जिम्मेदारी है। हालांकि केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा ने खुद भी इस बात को माना है की दिल्ली में प्रदूषण का स्तर काफी उपर जा चुका है और जल्द ही इसको कम करने का प्रयास नहीं किया गया तो यह काफी खतरनाक साबित हो सकता है।

रविवार तक बंद रहेंगे सभी स्कूल :

दिल्ली में प्रदूषण का स्तर ज्यादा खतरनाक हो जाने के बाद उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शहर के सभी स्कूलों को रविवार तक बंद रखने का आदेश दिया है। उन्होंने दिल्ली की तुलना ‘गैस चैम्बर’ से करते हुए सभी प्राइमरी स्कूलों को बुधवार को बंद रखे जाने का आदेश दिया था, उन्होंने एक ट्वीट करके भी कहा की, “दिल्ली में लगातार बिगड़ती हवा की गुणवत्ता की वजह से बच्चों के स्वास्थ्य से समझौता नहीं किया जा सकता, हमने आदेश दिए हैं कि दिल्ली में सभी स्कूलों को रविवार तक बंद रखा जाए” वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइज़ेशन ने भी घोषणा की है की प्रदूषण का स्तर सुरक्षित स्तर से 30 गुणा ज्यादा बढ़ चुका है, जिसकी वजह से शहर के डॉक्टरों को भी स्वास्थ्य चेतावनी जारी करनी पड़ी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.