ब्रेकिंग न्यूज़

कश्मीर में शुरू हुआ मिशन डोभाल,अब इन आतंकियों का होगा विनाश!

कुछ दिनों  पहले ही कश्मीर के सुरक्षा की कमान अजित डोवाल को सोंपी गयी है. डोवाल को ज़िम्मेदारी मिलते ही ( Ajit Doval Mission Kashmir ) कश्मीर मैं उपद्रब की घटनायों मैं असामान्य रूप से कमी आयी थी .

डोवाल अब अपने मिशन पर   अब और आगे बढ रहे हैं.  , डोवाल के निर्देश से पहले की सीमा सुरक्षा बल की कयी जगह तैनाती हो चुकी है और उप्रवियों पर कडी नज़र रखी जा रही है ताकि हिंसा फैलाने वालों की पहचान हो सके . अब डोवाल इस दिशा मैं एक और महत्व पुर्ण कदम उठा रहे हैं ,  डोवाल के निर्देश पर सुरक्षा बलों ने ४०० ऐसे अलगाव वादी नेताओं की सुची बनायी है जो वक़्त वेवक़्त लोगो को भड्का कर हिंसा फैलाने की कोशिश करते हैं

सरकार ने निर्देश ज़ारी कर उन सभी नेताओं को हिरासत मैं लेने की आदेश ज़ारी कर दिया है  और उन सभी नेताओं पर कार्यवाही होना सुनिश्चित माना जा रहा है.

कौन कौन है लिस्ट मैं शामिल? [ Ajit Doval Mission Kashmir]

खुफ़िय तंत्रों के  जानकारों के मुताबिक  इस लिस्ट आतंकवादी संगठनो के लिये काम करने वाले लोग और साथ मैं  हिजबुल मुजाहिदीन के अंडरग्राउंड कमांडर शामिल हैं. अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी के संगठन और जमात ए इस्लामी संगठन के सदस्य भी  सुरक्षा एजेन्सियों के राडार पर है

पेलेट गन पर विवाद बढने के बाद अब सरकार ने कशमीर  मैं पेलेट गन पर रोक लगाने के निर्देश ज़ारि किये है. पेलेट गन की जगह  अब  PAVA शेल गन्स  इस्तेमाल किया जायेगा. PAVA शेल गन्स  को मिर्ची गन के नाम से भी जाना जाता है

कुछ दिनों पहले राजनाथ सिंह के कश्मीर दौरे के दौरान, राजनाथ सिंह  ने  महबूबा मुफ़्ती के से स्पष्ट रूप से कहा था की प्रदर्शन को बढावा देने वाले एवं लोगों को भडकाने वाले स्थानिय नेताओं पर कडी कारवायी करना बेहद ज़रूरी है. रोज़ रोज़  सुरक्षा बलों को प्रयोग कर हिंसा को नियंत्रण करने से बेहतर है की अराज़क तत्वों को पहचान कर उन के खिलाफ़ कारवाई की जाये ताकि हिंसा ही न हो.

सरकार चाहती है की ईद-उल-जुहा से पहले कशमीर मैं शान्ति बहाली हो जाये और इस कडी मैं सरकार ने भीड का नेत्रुत्व कर भडकाउ  भाषण देने वालों को हिरासत मैं लेने के आदेश  ज़ारी  किये हैं

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close