राजनीति

राजनाथ सिंह को बदनाम करने के लिए कांग्रेसियों ने चली ‘गंदी चाल’, सोशल मीडिया पर फैलाई ये तस्वीर

नई दिल्ली – आज हम सोशल मीडिया के जरिए जितना चाहे सच झुठ फैलाने के लिए फ्री हैं। न कोई हमें रोक सकता है और न ही कोई टोक सकता है। इस काम सबसे ज्यादा गलत इस्तेमाल फोटोशॉप सॉफ्टवेयर का होता है। हालांकि, सोशल मीडिया पर फैलाए जा रहे झुठ को पकड़ने के लिए पिछले कुछ समय से पुलिस ने काफी कोशिश की है। इसके बावजूद इसका खतरनाक रुप हमें आये दिन कहीं न कहीं देखने को मिल ही जाता है। Photoshoped image of rajnath singh. पिछले कुछ सालों से फोटोशॉप के जरिए लोग ने किसी भी आम फोटो को कुछ ऐसा बनाने का काम किया है, जिससे किसी को बदनाम किया जा सके। इसी फर्जीवाड़े का सबसे ज्यादा शिकार सेलिब्रिटी और हमारे नेता बनते हैं।

सोशल मीडिया पर छाई फोटोशॉप की गई फोटो

आजकल किसी को बदनाम करना इतना आसान हो गया है कि, हम किसी भी स्टार या नेता को बदनाम करने के लिए फोटोशॉप से उसकी फर्जी फोटो सोशल मीडिया पर फैला सकते हैं। बदनाम करने के अलावा, किसी को ट्रोल करने के लिए भी फोटोशॉप का इस्तेमाल किया जा रहा है। हालांकि, इसके जरिए, लोगों की रचनात्मकता भी सामने आती है जिसे देखकर हर कोई मुस्कुराए बिना नहीं रहता। लेकिन, कभी-कभी ये हमारी सोच से ज्यादा खतरनाक साबित होते है। ताजा मामला, गृहमंत्री राजनाथ सिंह से जुड़ा हुआ है। राजनाथ सिंह कि एक तस्वीर को फोटोशॉप के जरिए बदनाम करने की कोशिश की गई।

राजनाथ सिंह को बदनाम करने की साजिश

दरअसल, कांग्रेस की एक महिला समर्थक जिसका ट्वीटर हैंडल @faridapatel, उसने फिल्म की फोटो को राजनीतिक हथियार बनाते हुए राजनाथ सिंह की एक तस्वीर ट्वीटर पर शेयर कर दी। इस महिला समर्थक ने फिल्म में मंत्री का रोल कर रहे अभिनेता के चेहर पर राजनाथ सिंह का चेहरा लगते हुए तस्वीर शेयर की और कैप्शन लिखा – केंद्रीय गृहमंत्रालय में वरिष्ठ पुलिस अफसर के साथ होता है ये सुलूक। हालांकि, फरीदा ने ये ट्वीटर से इस ट्वीट को अभी डिलीट कर दिया है। इस फर्जी फोटो के सामने आने के बाद आलमगिर रिजवी नाम के युवक ने भी कुछ ऐसी ही प्रतिक्रिया दी।

 क्या है इस वायरल तस्वीर का सच?

दरअसल, यह तस्वीर एक पूर्व आईपीएस ऑफिसर योगेश प्रताप सिंह की 30 दिसम्बर 2011 को रिलीज हुई फिल्म की है। इस फिल्म का नाम ‘क्या यही सच है’, जिसमें वो एक सीन में पुलिस और राजनीति के रिश्ते को दिखाने कि कोशिश की गई है। इस सीन को लोगों ने अपने हिसाब इस्तेमाल किया और राजनाथ सिंह निशाने पर आ गए। कांग्रेस के प्रवक्ता संजय झा ने भी इस तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा – यदि यह तस्वीर सच है कि हद हो गई। मैं भौंचक रह गया हूं। हालांकि, सच जानने के बाद उन्होंने भी इस ट्वीट को हटा लिया।

Show More

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button