आतंकी बुरहान के पिता ने कहा- पत्‍थर मत फेंको, पेलेट गन के सामने इनकी कोई औक़ात नहीं

हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी बुरहान वानी के पिता ने कश्‍मीर में चल रही हिंसा पर (Interview) कहा कि पत्थत मत फेंको, बातचीत से ही समस्‍या का हल निकाला जा सकता है।

हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी बुरहान के पिता मुजफ्फर वानी ने कश्‍मीर में हो रही हिंसा पर कहा कश्मीर समस्‍या का हल बातचीत से ही हल हो सकता है। मुजफ्फर वानी पेशे से स्‍कूल के हैडमास्‍टर हैं , मुजफ्फर वानी का कहना है की बुरहान मर चुका है लेकिन पत्‍थर मत फेंको। हिंदुस्‍तान टाइम्‍स को दिये साक्षाकार में आतंकी के पिता ने कहा, “मैं कश्मीरी युवाओं से अपील करता हूं कि पत्‍थर मत फेंकिए, पेलेट गन के सामने इनकी कोई औक़ात नहीं” मुजफ्फर वानी ने ने बताया कि “कई लोग उनके पास आते हैं जो विरोध-प्रदर्शनों में शामिल होने के लिये निवेदन करते हैं । लेकिन मैं बुरहान का पिता बनकर ही खुश हूं”।

मुजफ्फर वानी भी कश्‍मीर की आजादी की हिमायती हैं।

मुजफ्फर वानी भी कश्‍मीर की आजादी की हिमायती हैं। मुजफ्फर वानी का कहना है कि उनका बेटा शहिद हो कर आजादी का आंदोलन आगे बढाने के लिये कश्मीर के युवाओं के कंधे पर ज़िम्मेदारी छोढ़ गया है। पर समस्या के समाधान का एक रास्ता है, सिर्फ़ बातचीत का है। अगर बातचीत नहीं होगी तो भारत सरकार फिर से आंदोलन को कुचल देगी.। युवाओं के के बंदूक उठाने के सवाल पर कहा कि पहले वाली पिढी बंदूक से डरती थी पर ये युवा पीढ़ी बंदुक से नहीं डरती है। कश्मीर की आजादि मैं भाग लेने वाले युवा पिढी को आप बंदूक दो और वे इसे लेकर उनके बेटे की तरह वे खतरनाक आतंकी बन जाएंगे।

कश्‍मीर मैं त्राल के शरीफाबाद का रहने वाला था आतंकी

कश्‍मीर मैं त्राल के शरीफाबाद का रहने वाला था आतंकीबुरहान वानी जिसे पिछले माह सुरक्षाबलों ने मुठभेड मैं मार दिया था। बुरहान वानी के मरने के बाद से कश्‍मीर में तनाव का माहोल है और आतंकी प्रदर्शन पर प्रदर्शन कर रहे हैं । पिछले डेढ माह से वहां पर कर्फ्यू लगा हुआ है और करीब ५० आतंकी मारे जा चुके हैं । सैंकड़ों पत्थरबाज़ घायल हो चुके हैं। आप की जानकारी के लिये बता दें की बुरहान वानी का बड़ा भाई आतंकी था एवं सेना की गोलीबारी में मारा गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!