समय रहते बदल डालें अपनी ये आदतें.. नही तो आपकी हड्डियां हो जाएंगी खराब

हड्डियां हमारे शरीर की आधारशिला है जिसके सहारे पूरा शरीर सक्रीय हो पाता है …स्वस्थ रहने के लिए  हड्डियों का स्ट्रॉन्ग होना बहद जरूरी है। खास कर ढ़लती उम्र का हड्डियों पर प्रभाव दिखने लगता है ऐसे में बढ़ती उम्र में हड्डियों को हेल्दी बनाए रखने के लिए सही डाइट के साथ-साथ लाइफस्टाइल भी हेल्दी होना चाहिए। लेकिन कई लोग आदतें ऐसी हैं जिससे ह़ड्डियों को खुद ही कमजोर बना लेते हैं। आपको हम ऐसी ही आदतों के बारे में बता रहे हैं जिनको बदल कर आप स्ट्रांग हड्डियों के सहारें स्वस्थ्य जीवन का हमेशा आनंद ले सकते हैं।

जंक फूड, फास्ट फूट खाना है खतरनाक

जंक फूड यानी पिज्जा, बर्गर, पास्ता, ब्रेड से बनी चीजों में सोडियम की मात्रा अधिक होती है। जो कि शरीर से नैचुरल विटमिन और प्रोटिन जैसी चीजों को बाहर निकाल देती है। जिससे हड्डियों को बेहद नुकसान पहुंचता है। ऐसे में स्वादिस्ट पिज्जा, बर्गर, पास्ता से बचना चाहिए।

नमक ही नहीं ज्यादा मीठा भी नुकसानदेय

फैक्ट्रियों में बने मीठे खाद्य पदार्थों में फॉस्फोरिक ज्यादा होता है। फॉस्फोरिक जैसे केमिकल खाने से शरीर को नुकसान होता है। इससे भी हड्डियों में कमजोरी आती है। मीठे खाद्य पदार्थों को ज्यादा खाने से भी बचना चाहिए।

कॉफी का अधिक सेवन

दिन में एक से अधिक कॉफी पीने वालों की हड्डियां भी कमजोर हो जाती है। कैफिन की मात्रा अधिक होने से बोन मास डेंसिटी कम होती है। जिससे हड्डियों में बुरा प्रभाव पड़ता है। इससे ऑस्टियोपोरोसिस होने की आशंका बनी रहती है।

शाम की दवा है हड्डियों की दुश्मन

तनाव और जश्न में शराब पीने के शौकिनों की भी हड्डियां कमजोर होती है। ज्यादा एल्कोहर विटामिन डी और कैल्सियम को शरीर से निकालने का काम करती है। जिससे हड्डियां कमजोर होने का डर रहता है।

चॉकलेट भी कर सकती है नुकसान

चॉकलेट खाने से शरीर में शुगर लेवल बढ़ता है। साथ ही ऑक्सेलेट को भी बढ़ाता है। इससे शरीर में लिया गया कैल्सियम पूरी तरह पच नहीं पाता, एब्जार्ब न होने की स्थित में हड़्डियां कमजोर होने लगती है।

आर्टिफीशियल सप्लीमेंट बेहद खतरनाक

जिम जाने वाले लोगों में ये प्रायः देखा गया है, कि वो शरीर तो बढ़ाने और ताकत के नाम पर आर्टिफीशियल सप्लीमेंट लेना शुरु कर देते हैं। जो की शरीर को नुकसान पहुंचाता है। जैसे विटामिन ए अगर नैचुरल तरीके से लिया गया हो तो फायदा करता है। वहीं दवा और गोली के माध्यम से लिया गया सप्लीमेंट नुकसान करता है। ऐसे में ज्यादा सप्लीमेंट भी हड्डियों को नुकसान पहुंचाता है।

नमक की मात्रा को कम करें।

नमकीन, चिप्स जैसे स्नैक से दूरी बना कर रखनी चाहिए, इनके मिश्रण में सोडियम की मात्रा अधिक पाई जाती है। जो की शरीर में मौजूद कैल्सियम की दुश्मन है। सोडियम की तय मात्रा से ज्यादा के सेवन में कैल्सियम यूरिन के रास्ते से निकल जाता है। जिससे हड्डियां कमजोर हो जाती है। इसलिए स्वस्थ्य रहना है  तो सोडियम की मात्रा में कमी लाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.