रिहाई पर भावुक हुए दयाशंकर, पहले बिटिया से मिलूंगा, मयवाती के बारे में कहा ये

दयाशँकर सिंह ने कहा कि पूरी घटना से मेरी पत्नी, मां और बेटी काफी आहत हैं। बेटी पर मानसिक असर हुआ है। मैं उसे गले लगाना चाहता हूं। मेरी बेटी के साथ मायावती के नेताओं ने काफी गलत व्यवहार किया है। जिन लोगों ने मेरी बेटी, मां और पत्नी के खिलाफ हजरतगंज चौराहे पर गाली गलौज की वो अभी भी बाहर खुलेआम घूम रहे हैं। मैं चाहता हूं कि उनकी भी गिरफ्तारी हो। सीएम अखिलेश ने भी माना कि गलत हुआ मगर आरोपी अभी भी बाहर घूम रहे हैं।

दयाशंकर ने कहा कि वो बीजेपी के बारे में कोई भी बात पार्टी से ही करेंगे। दयाशंकर के निशाने पर खास तौर पर बीएसपी महासचिव नसीमुद्दीन सिद्दिकी थे। उन्होने कहा कि नसीमुद्दीन के इशारे पर ही ये सब कुछ हुआ है। मायावती ने मेरे परिवार के खिलाफ गाली गलौज करने के लिए नसीमुद्दीन पर कोई कार्रवाई नहीं की। जबकि मैने जो भी कहा था उसका गलत मतलब निकाला गया। उन्होने कहा कि वो अपने परिवार के सम्मान की लड़ाई जारी ऱखेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.