दिलचस्प

कंपनी ने एक कर्मचारी को नौकरी से निकाला, विरोध में खड़े हो गए सभी कर्मचारी, कहा- उसे वापस लाओ

आज कल सोशल मीडिया पर सोशल मीडिया यूजर्स अपनी खुशी के साथ ही अपने गम भी लोगों के साथ साझा करते हैं. अक्सर सोशल मीडिया के माध्यम से लोग कुछ न कुछ अजीबों गरीब घटना साझा करते हैं. आज हम भी आपको सोशल मीडिया के माध्यम से सामने आई एक अजीब घटना के बारे में बता रहे है. जहां 20 मिनट देरी से आने पर एक कर्मचारी को नौकरी से निकाल दिया गया.

एक शख्स एक कंपनी में सात साल से नौकरी कर रहा था. ख़ास बात यह है कि वो इस दौरान कभी देरी से कार्यालय नहीं आया. हाल ही में वो एक दिन 20 मिनट लेट हो गया. इस वजह से उसे कंपनी ने बाहर का रास्ता दिखाए दिया. यह सात साल में पहला मौका था जब कर्मचारी लेट आया और इसकी वजह से उसकी नौकरी चली गई.

हाल ही में काम से निकाले गए एक शख्स के एक सहयोगी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म रेडिट पर इस घटना को साझा किया है. उसने इसे रेडिट पर एंटीवर्क फोरम में शेयर किया है. कर्मचारी के सहयोगी ने पोस्ट में बताया कि मेरे सहयोगी को 7 साल काम करते हो गए और वह पहली बार 20 मिनट देर से पहुंचा. कंपनी ने महज 20 मिनट की देरी की बात पर उसके सहयोगी को नौकरी से निकाल दिया.

कहां और कब का है मामला ?

job

यह बात तो हर ओर चर्चा में है कि एक कर्मचारी को सात साल में पहली बार 20 मिनट देरी से आने पर अपनी नौकरी गंवानी पड़ी. हालांकि पोस्ट करने वाले शख्स ने पोस्ट में इस बात की जानकारी नहीं दी है कि मामला कहां का ओर कब का है. साथ ही अपने सहयोगी की पहचान का भी खुलासा उसने नहीं किया. न ही कंपनी का नाम मेंशन किया गया.

सभी कर्मचारियों ने किया विरोध…

job

वैसे कंपनी के फैसले से कंपनी के अन्य सभी कर्मचारी नाराज दिखाई दिए और सभी ने निकाले गए कर्मचारी के समर्थन में आवाज उठाते हुए विरोध दर्ज करवया. पोस्ट में शख्स ने आगे लिखा है कि, ”अब कल से मैं भी काम पर देरी से जाऊंगा. सभी कर्मचारियों ने अब देरी से आने का फैसला किया है. जब तक उसे (निकाले गए कर्मचारी को) वापस काम पर बहाल नहीं किया जाता है, कंपनी के सभी कर्मचारी हर रोज काम पर देरी से आएंगे”.

सोशल मीडिया पर लोग निकाले गए कर्मचारी और उसका समर्थन कर रहे अन्य सभी कर्मचारियों के समर्थन में है और उनकी तारीफ़ कर रहे हैं दूसरी ओर कंपनी को लोगों से आलोचना झेलनी पड़ रही है.

Back to top button
?>