समाचार

‘हमें चैन से बैठने का हक नहीं’, मोदी का BJP कार्यकर्ताओं को अगले 25 साल सत्ता में रहने का मंत्र

राजस्थान के जयपुर में बीजेबी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक में पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं के प्रयास की खूब सराहना की, लेकिन साथ ही कहा कि हमें चैन से बैठने का हक नहीं हैं क्योंकि देश की सेवा हमारा लक्ष्य है। पीएम मोदी ने बीजेपी कार्यकर्ताओं को अगले 25 साल सत्ता में रहने का मंत्र भी दिया है कि आलस्य नहीं लाना है और चैन से नहीं बैठना है।

राजस्थान के जयपुर में बीजेपी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक चल रही है। बैठक के दूसरे दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीजेपी के नेताओं को वर्चुअली संबोधित किया।

देशवासियों को बीजेपी से काफी उम्मीद है

इस दौरान पीएम मोदी ने कहा, दुनिया आज भारत को बहुत उम्मीदों से देख रही है। ठीक वैसे ही भारत में भाजपा के प्रति, जनता का एक विशेष स्नेह है। देश की जनता भाजपा को बहुत विश्वास से, बहुत उम्मीद से देख रही है।

पीएम ने कहा, देश की जनता की ये आशा-आकांक्षा हमारा दायित्व बहुत बढ़ा देती है। आजादी के इस अमृत काम में देश अपने लिए अगले 25 सालों के लक्ष्य तय कर रहा है। भाजपा के लिए यही समय है, अगले 25 सालों के लक्ष्यों को तय करने का, उनके लिए निरंतर काम करने का।

पीएम ने कहा, हमारा दर्शन है पंडित दीनदयाल उपाध्याय का एकात्म मानववाद और अंत्योदय। हमारा चिंतन है डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी की सांस्कृतिक राष्ट्रनीत। हमारा मंत्र है, सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास।

हमें चैन से बैठने का हक नहीं- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा, आजादी के इस अमृत काल में देश बड़े लक्ष्यों पर काम कर रहा है, तब हमें कुछ बातें और भी याद रखनी जरूरी है। भाजपा कार्यकर्ता होने के नाते हमें चैन से बैठने का कोई हक नहीं है, कोई अधिकार नहीं है। आज भी हम अधीर हैं, बेचैन हैं, आतुर हैं क्योंकि हमारा मूल लक्ष्य, भारत को उस उंचाई पर पहुंचाना है जिसका सपना देश की आजादी के लिए मर-मिटने वालों ने देखा था।

pm modi

परिवारवाद के कीचड़ में खिलाया कमल

पीएम मोदी ने कहा, हम देख रहे हैं कि आज कुछ पार्टियों का इकोसिस्टम पूरी शक्ति से देश को मुख्य मुद्दों को भटकाने में लगा हुआ है। हमें कभी ऐसी पार्टियों के जाल में नहीं फंसना है। पीएम ने कहा बीजेपी ने वंशवाद और परिवारवाद के कीचड़ में कमल खिलाया है।

PM ने कहा, मैं सैचुरेशन की बात करता हूं। तो सैचुरेशन सिर्फ पूर्णता का आकंड़ा भर नहीं है। ये भेदभाव, भाई-भतीजावाद, तुष्टिकरण, भ्रष्टाचार के चंगुल से देश को बाहर निकालने का माध्यम है।

हमें सत्ता भोग नहीं करना- पीएम

नरेंद्र मोदी ने कहा, हमें अगर सत्ताभोग ही करना होता तो भारत जैसे विशाल देश में कोई भी सोच सकता है कि इतना सारा मिल गया, अब तो बैठो। लेकिन हमें ये रास्ता मंजूर नहीं है। हमारा मूल लक्ष्य भारत को उस ऊंचाई पर पहुंचाना है जिसका सपना देश की आजादी के लिए मर मिटने वालों ने देखा था।

बीजेपी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक 19 से 21 मई तक जयपुर में चल रही है। इस बैठक में राजनीतिक मुद्दों के साथ राज्यों के विधानसभा चुनाव सें संबंधित विषयों पर भी चर्चा की जाएगी। बैठक में कुल 136 राष्ट्रीय पदाधिकारी पहुंचे हैं। इसमें कई पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व केंद्रीय मंत्री भी शामिल हैं।

Back to top button