समाचार

विमान में महिला को हुआ तेज लेबर पेन, फरिश्ता बन आई एयरहोस्टेस, गूंजी किलकारी तो खिल गए चेहरे

हवाई सफर के दौरान हजारों फीट की ऊंचाई पर अगर किसी प्रेग्नेंट महिला को अचानक तेज लेबर पेन होने लगे तो सभी के चेहरे पर हवाइयां उड़ना तय है। लेकिन ऐसी स्थिति में विमान की एक फ्लाइट अटेंडेट यानी एयरहोस्टेज ने बिना घबराए जो काम किया उससे लोग कहने लगे जच्चा-बच्चा के लिए फरिश्ता बनकर आ गई फ्लाइट अटेंडेंट। क्या है पूरा मामला आपको आगे बताते हैं।

बीच हवा में बच्चे की डिलिवरी का ये मामला अमेरिका का है। फ्रंटियर एयरलाइंस के मुताबिक, फ्लाइट डेनवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट से ऑरलैंडो इंटरनेशनल एयरपोर्ट जा रही थी। जब महिला को लेबर पेन हुआ, तब डायना गिराल्डो नाम की एक फ्लाइट अटेंडेंट ने इसे नोटिस किया। विमान में बैठे लोगों को समझ में नहीं आ रहा था क्या करें।

लेकिन उस फ्लाइट अटेंडेंट सयंम से काम लिया है और वह महिला को प्लेन के पीछे वाले हिस्से मौजूद टॉयलेट में लेकर लेकर गई। वहां फ्लाइट अटेंडेंट ने गर्भवती महिला को हौसला बढ़ाया और उसे बच्चे की सुरक्षित डिलीवरी में मदद की। फ्लाइट अटेंडेंट की सूझबूझ से विमान के अंदर बच्चे की किलकारी गूंज उठी।

बच्चे की डिलिवरी के बाद फ्लाइट को डायवर्ट कर पेंसाकोला एयरपोर्ट पर ले जाया गया। जहां पर पैरामेडिकल स्टाफ पहले से ही उन्हें एसिस्ट करने के लिए मौजूद थे। फ्रंटियर एयरलाइंस ने इस काम के लिए फ्लाइट अटेंडेंट और पायलट क्रिस नाय की तारीफ की है।


पायलट और क्रू की हो रही तारीफ

क्रिस ने कहा- क्रू ने बेहतरीन काम किया है। मैंने फर्स्ट ऑफिसर को कंट्रोल्स और फ्लाइंग ड्यूटी ट्रांस्फर कर दिया था। क्योंकि तब मैं डायवर्जन कोऑर्डिनेट कर रहा था। डिस्पैच ने भी बंढ़िया काम किया। उन्होंने ही पेंसाकोला एयरपोर्ट के बारे में सजेस्ट किया था और वहां सारी व्यवस्थाएं पूरी रखी थी।

क्रिस ने सभी लोगों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा- इस काम को बहुत अच्छे से किया गया और लोगों ने एक साथ मिलकर एयरक्राफ्ट पर बच्चे को डिलीवर करने के काम को सफलतापूर्वक पूरा किया। फ्रंटियर एयरलाइंस ने इसके बारे में फेसबुक पर जानकारी देते हुए बताया कि मां ने अपनी बच्ची का नाम ‘स्काई’ रखा है। वहीं इस काम के लिए पोस्ट के कमेंट सेक्शन में लोग क्रू और एयरलाइंस की तारीफ करते दिख रहे हैं।

Back to top button