समाचार

AAP विधायक अमानतुल्लाह खान हिस्ट्रीशीटर घोषित, दिल्ली पुलिस ने BC यानि बैड कैरेक्टर भी ठहराया

दिल्ली के आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। सरकारी काम में बाधा पहुंचाने के मामले में FIR दर्ज करने के बाद अब दिल्ली पुलिस ने उन्हें हिस्ट्रीशीटर भी घोषित कर दिया है। दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि ‘आप’ विधायक अमानतुल्लाह खान को 30 मार्च को ही हिस्ट्रीशीटर और बीसी (बैड कैरेक्टर) घोषित किया जा चुका है।

आपको बता दें कि अमानतुल्लाह खान के खिलाफ अब तक 18 आपराधिक मामले दर्ज हैं। पुलिस का दावा है कि अमानतुल्ला एक हैबीचुअल ऑफेंडर हैं। उनके खिलाफ जमीन पर कब्जा करने और मारपीट करने के भी मामले दर्ज हैं।

बंडल ए का बीसी घोषित किया गया

एसएचओ जामिया नगर की तरफ से 28 मार्च को अमानतुल्लाह खान को बंडल ए का बीसी बनाए जाने का प्रस्ताव जारी किया गया था, जिसे डीसीपी ने 30 मार्च को मंजूरी दे दी थी।

अतिक्रमण हटाने का विरोध किया

बता दें कि, दिल्ली के विभिन्न इलाकों में नगर निगमों का अतिक्रमण विरोधी अभियान लगातार जारी है। गुरुवार को दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के मदनपुर खादर इलाके में हुए हिंसक प्रदर्शन और पत्थराव के दौरान स्थानीय लोगों ने बुलडोजर को रोकने की कोशिश की और सुरक्षाकर्मियों पर पथराव किया था।

इस दौरान ‘आप’ विधायक अमानतुल्ला खान ने मदनपुर खादर के कंचन कुंज में अपने समर्थकों और स्थानीय लोगों के साथ नगर निगम के इस अभियान का विरोध किया।

इसके बाद ‘आप’ विधायक को दंगे और सरकारी कर्मचारियों के काम में बाधा पहुंचाने के आरोपों के तहत गिरफ्तार कर लिया गया था, जहां से बाद में उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। बताया जा रहा है कि अमानतुल्ला खान की गिरफ्तारी के विरोध में शनिवार को ओखला और शाहीन बाग के कई बाजार बंद रखे गए।

डीसीपी ईशा पांडेय ने बताया था कि, भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। अमानतुल्ला खान और उनके पांच समर्थकों को दंगा करने और सरकारी कर्मचारियों को उनके कर्तव्य पालन से रोकने के आरोपों के तहत गिरफ्तार किया गया है। आरोप है कि सोमवार को भी शाहीन बाग में एक अभियान के दौरान ‘आप’ विधायक अमानतुल्ला खान ने विरोध प्रदर्शन किया था। अधिकारियों के काम में अवरोध उत्पन्न करने के आरोप में उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी।

Back to top button