समाचार

बडगाम में कश्मीरी पंडित की हत्या, भारी विरोध प्रदर्शन, क्या ये ‘कश्मीर फाइल’ का नया चैप्टर है?

क्या कश्मीर फाइल का नया चैप्टर शुरू हो गया। गुरुवार को बडगाम में तहसीलदार ऑफिस में काम करने वाले एक कर्मचारी राहुल भट्ट की हत्या कर दी गई। इस वारदात के बाद पूरे जम्मू-कश्मीर में भारी विरोध प्रदर्शन हो रहा है। हर तऱफ कश्मीरी पंडित सड़क पर उतर कर प्रदर्शन कर रहे हैं।

कश्मीरी पंडित की हत्या

जम्मू-कश्मीर के बडगाम (जिले में गुरुवार को आतंकियों ने तहसीलदार कार्यालय में घुसकर कश्मीरी पंडित कर्मचारी को गोली मार दी। इससे वह लहूलूहान होकर जमीन पर गिर पड़े। अचानक हुई दफ्तर में फायरिंग से कर्मचारियों में भगदड़ मच गई।

आतंकियों के मौके से फरार होने के बाद अन्य ने घायल कर्मचारी राहुल भट को स्थानीय अस्पताल पहुंचाया। इसके बाद उन्हें श्रीनगर रेफर कर दिया गया। जहां उन्होंने कुछ देर चले उपचार के बाद दम तोड़ दिया। वहीं अब इस घटना के बाद पूरे कश्मीर में उबाल है। बडगाम से लेकर श्रीनगर तक जमकर प्रदर्शन भी हो रहे हैं।

भारी विरोध प्रदर्शन

बता दें कि बडगाम के चाडूरा तहसील में कार्यरत कर्मचारी राहुल भट की हत्या के विरोध में कश्मीरी पंडितों ने जम्मू-श्रीनगर हाईवे और बारामुला-श्रीनगर राजमार्ग को को जाम कर आक्रोश जताया। यह प्रदर्शन देर रात तक चलता रहा।

मौके पर पहुंचे कश्मीरी पंडितों ने शव को सड़क पर रखकर प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। कश्मीरी पंडित कर्मचारियों ने कहा है कि बिना सुरक्षा के वे काम पर नहीं जाएंगे। वहीं प्रदर्शनकारी उप राज्यपाल के आने को लेकर अड़े रहे लेकिन बाद में उप पुलिस महानिरीक्षक सुजीत कुमार के आश्वासन पर कर्मचारी शव उठाने को तैयार हुए।

अंतिम संस्कार में शामिल हुए ADGP

शुक्रवार सुबह 10 बजे उपराज्यपाल के आवास के बाहर लोगों ने धरना प्रदर्शन किया। एक मैसेज भी शेयर किया जा रहा है, जिसमें लिखा है कि “केवल एक मांग – या तो हमें सुरक्षा प्रदान करें [बंदूक और उसका लाइसेंस] या हमें जम्मू भेजें। कोई अन्य मांग नहीं। हम कुत्तों और बिल्लियों की तरह नहीं मर सकते, हम इंसान हैं।

वहीं शुक्रवार को मृतक राहुल भट्ट का अंतिम संस्कार किया गया। चंदूरा तहसील कार्यालय के कर्मचारी राहुल भट्ट का बंतालाब में अंतिम संस्कार किया गया है। इस दौरान एडीजीपी जम्मू मुकेश सिंह, मंडलायुक्त रमेश कुमार और उपायुक्त अवनी लवासा भी श्मशान घाट पर मौजूद थे।

उपराज्यपाल ने कहा- आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने राहुल भट की हत्या की निंदा की है। उन्होंने कहा कि आतंकी हमले के पीछे जो लोग हैं, उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। इस दुख की घड़ी में जम्मू-कश्मीर सरकार शोक संतप्त परिवार के साथ खड़ी है।

Back to top button