Viral

सादगी की मूरत हैं राहुल द्रविण, एक इवेंट में बिना झिझक सबसे पीछे की कुर्सी पर बैठे, फोटो वायरल

टीम इंडिया के वर्तमान हेड कोच और अपने जमाने में भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे गंभीर खिलाड़ी माने जाने वाले राहुल द्रविण सादगी की भी मूरत हैं। राहुल द्रविण के जीवन का फलसफा रहा है-सादा जीवन, उच्च विचार। उनकी सादगी उस वक्त एक बार फिर देखने को मिली जब वो एक इवेंट में पहुंचे। बेंगलुरु में हुए एक बुक इवेंट में भारतीय क्रिकेट के दीवार कहे जाने वाले राहुल द्रविड़ की सादगी का यह नज़ारा देखने को मिला है। इस इवेंट की तस्वीरें सामने आई हैं जिसमें राहुल द्रविड़ पीछे की कुर्सी पर बेहद ही शांत बैठे हुए हैं।

द्रविण ने  सादगी से जीता दिल

राहुल द्रविण के चेहरे पर सेलेब्रिटी होने का रौब नहीं, सिर्फ एक आम आदमी की तरह वो दिखे। भारतीय क्रिकेट टीम के हेड कोच राहुल द्रविड़ की इसी सादगी ने फैन्स का दिल जीत लिया है। उनकी ये फोटो वायरल हो रही है।

फोटो हुई वायरल

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर शेयर की गई है, जो बेंगलुरु के एक बुक स्टोर की है। यहां पूर्व भारतीय क्रिकेटर जी.विश्वनाथ अपनी किताब पर बात करने आए हुए थे। इसी दौरान राहुल द्रविड़ भी यहां मौजूद रहे। राहुल द्रविड़ इवेंट में सबसे पीछे मास्क लगाए चुपचाप बैठे थे।

ट्विटर यूज़र Kashy ने बताया कि राहुल द्रविड़ इवेंट में आए, उन्होंने रामचंद्र गुहा से बात की। मैं और मेरे साथ समीर थे, जिन्होंने पहचाना की वह राहुल द्रविड़ ही हैं। उसके बाद वह पिछली सीट पर लगी कुर्सी पर जा बैठे, उनके बगल में एक लड़की बैठी थी। जो पहचान भी नहीं सकी कि वो किसके साथ बैठी है।

इवेंट में जब जी. विश्वनाथ की एंट्री हुई, तब उन्होंने राहुल द्रविड़ को देखा। राहुल उनसे बात करने के लिए आगे आए, सभी लोगों को हैलो किया। इसके बाद फिर पीछे बैठने चले गए क्योंकि उनका मानना था कि यह इवेंट विश्वनाथ का है, ऐसे में उनपर ही सभी की नज़रें होनी चाहिए।

राहुल द्रविड़ की इस तस्वीर को ट्वीट करने वाले यूज़र Kashy  ने बाद में खुद राहुल द्रविड़ के साथ सेल्फी भी क्लिक करवाई और पोस्ट की। राहुल द्रविड़ के इस गेस्चर पर क्रिकेट फैन्स अपना दिल लुटा बैठे और राहुल की जमकर तारीफ की।

सादगी से ही काम करते हैं द्रविण

ऐसा पहली बार नहीं है कि राहुल द्रविड़ की सादगी चर्चा का विषय बनी हो। भारतीय क्रिकेट के महानतम खिलाड़ियों में शुमार राहुल द्रविड़ अक्सर ऐसा ही करते हैं, उन्होंने एनसीए में बिना किसी ताम-झाम के काम किया। अंडर-19 टीम के साथ भी पर्दे के पीछे काम करते रहे और अब टीम इंडिया के लिए भी पर्दे के पीछे से काम कर रहे हैं।

Back to top button