समाचार

ईद पर नमाजियों के बीच भगवा कपड़े में पहुंचा मुस्लिम शख्स, कहा- ये रंग मोहब्बत का प्रतीक है

बीजेपी की विरोधी पार्टियां भगवा रंग को लेकर उसपर निशाना साधती रहती हैं। मुसलमानों के बीच भगवा रंग के प्रति नफरत फैलाई जाती है। लेकिन एक मुस्लिम शख्स ने इस तरह की चीजों को दुष्प्रचार बताया औऱ कहा कि भगवा रंग मोहब्बत का प्रतीक है। इन शख्स ने ईद के मौके पर नए भगवा लिबास और बीजेपी पटका लगाकर ईद की नमाज पढ़ी तो सब लोग देखते रह गए।

भगवा लिबास में पढ़ी नमाज

ईद के दौरान यूपी के मुजफ्फरनगर में एक तस्वीर ने लोगों का ध्यान अपनी ओर खींच लिया। दरअसल मुज़फ्फरनगर में मंगलवार को ईद की नमाज़ के दौरान लोग उस वक्त हैरान हो गए जब भगवाधारी कपड़ों में और गले में बीजेपी का पटका लगाए एक व्यक्ति को नमाज़ियों के बीच में बैठकर नमाज़ अदा करते हुए देखा गया।

मामला नगर कोतवाली क्षेत्र के ईदगाह का है जहां ईद की नमाज़ के दौरान भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के पूर्व प्रदेश मंत्री डॉक्टर मोहम्मद समर गजनी भगवा कपड़े पहनकर और गले में बीजेपी का पटका लगा कर नमाज अदा करते हुए नजर आए। इस दौरान सभी की नजरें नमाजियों के बीचे बैठे मोहम्मद समर ग़जनी पर ही थीं।

भगवा कपड़े पहनकर नमाज़ अदा करने के बारे में जब मोहम्मद समर गजनी से सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘आज योगी जी के राज़ में मोहब्बत वाला माहौल है, योगी जी. ने पूरे उत्तर प्रदेश को भगवामय कर दिया है।’

गजनी ने कहा, ‘चूंकि भगवा रंग मोहब्बत का प्रतीक है इसलिए इसके जरिए हम संदेश देना चाहते हैं कि योगी जी के राज में एक दंगा मुक्त प्रदेश बना है जहां पर हिन्दू-मुस्लिम सभी प्यार से रह रहे है और पूरे प्रदेश में कही कोई दंगा नहीं हुआ है।’

भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के पूर्व प्रदेश मंत्री ने आगे कहा, ये भगवा एक समाज का प्रतीक है और जो भगवा सरकार चल रही है उसका प्रतीक मोहब्बत है। उन्होंने कहा, ‘आज पूरे प्रदेश में ईद भी शांतिपूर्वक संपन्न हो गई है, मुस्लिम समाज को हम ये संदेश देना चाहते हैं कि योगी सरकार आपकी तरफ प्यार का हाथ बढ़ाना चाहती है आप सब लोग भी मोहब्बत से हाथ बढ़ाएं।’ बीजेपी नेता ने आगे कहा,  ईधर से भी अगर हाथ बढ़ेगा तो दोनों तरफ़ प्यार बढ़ेगा और एक मजबूत सरकार 2024 में भी आएगी।

Back to top button