समाचार

‘3 मई को ईद, लेकिन 4 मई हमारी’, राज ठाकरे बोले-अजान के जवाब मे डबल आवाज मे बजाएं हनुमान चालीसा

महाराष्ट्र में अजान बनाम हनुमान चालीसा विवाद अब अधिक गर्मा गया है। कल औरंगाबाद में राज ठाकरे ने अपनी विशाल रैली में अपना वो अल्टीमेटम दोहराया कि 3 मई तक मस्जिदों से लाउडस्पीकर नहीं हटे तो उसके जवाब में हनुमान चालीसा बजाएंगे। अपनी रैली में जबरदस्त भीड़ देखकर उद्धव काफी उत्साहित दिखे और उन्होंने शिवसेना और उद्धव ठाकरे पर भी जमकर हमला बोला है।

औरंगाबाद की रैली में गरजे राज ठाकरे

अजान बनाम हनुमान चालीसा विवाद के बीच मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने रविवार (1 मई) को महाराष्ट्र के औरंगाबाद में एक रैली को संबोधित किया। इस रैली में भारी संख्या में लोगों की संख्या देखी गई। राज ठाकरे ने विवादित टिप्पणी करते हुए कहा कि वह ‘ईद पर कोई समस्या नहीं चाहते, 3 मई, हालांकि, 4 मई मेरी होगी।’ ठाकरे ने भीड़ से 4 मई से ‘अजान की तुलना में दोगुनी वॉल्यूम में हनुमान चालीसा बजाने’ के लिए कहा।

लाउडस्पीकर सामाजिक मुद्दा है

राज ठाकरे ने कहा कि लाउडस्पीकर धार्मिक नहीं बल्कि सामाजिक मुद्दा है, क्योंकि यह लोगों को परेशान करता है। मनसे प्रमुख ने आगे कहा कि अगर मस्जिदें लाउडस्पीकर का इस्तेमाल बंद नहीं करती हैं तो हिंदुओं को चुप नहीं रहना चाहिए और उचित कदम उठाने चाहिए। उन्होंने महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा, ‘महाराष्ट्र में इन लाउडस्पीकरों को क्यों नहीं हटाया जा सकता, जबकि अन्य राज्यों ने पहले ही ऐसा किया है।’

3 मई के बाद जो होगा तो मैं जिम्मेदार नहीं

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे ने रविवार को एक बार फिर दोहराया कि वह मस्जिदों पर से लाडस्पीकर हटाने के लिए दी गई तीन मई तक की समय सीमा को लेकर अडिग हैं।

ठाकरे ने देर शाम यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ‘मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने के लिए दी गई तीन मई की समय सीमा के बाद जो कुछ भी होगा, उसके लिए मैं जिम्मेदार नहीं रहूंगा।’ मनसे प्रमुख ने कहा कि चार मई से सभी हिंदू मस्जिदों के ऊपर के लाउडस्पीकर से दोगुनी आवाज में हनुमान चालीसा बजाएं।

लाउडस्पीकर पर जमकर बोले ठाकरे

उन्होंने कहा, ‘अगर वे (मुसलमान) अच्छे से नहीं समझते हैं, तो हम उन्हें महाराष्ट्र की ताकत दिखाएंगे।’ उन्होंने कहा कि लाउडस्पीकर का शोर धार्मिक, नहीं बल्कि सामाजिक मुद्दा है। ठाकरे ने कहा कि सभी लाउडस्पीकर (मस्जिदों के ऊपर) अवैध हैं। उन्होंने पूछा कि क्या यह एक संगीत कार्यक्रम है जिसमें इतने लाउडस्पीकर का इस्तेमाल किया जा रहा है?

उद्धव सरकार पर हमला

राज ठाकरे ने कहा कि अगर उत्तर प्रदेश सरकार लाउडस्पीकर हटा सकती है, तो उनके चचेरे भाई उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र सरकार को ऐसा करने से कौन रोक रहा है।

महाराष्ट्र पुलिस हुई एक्टिव

पुलिस ने राज ठाकरे और एमएनएस नेताओं को नोटिस थमा दिया है। पुलिस ने उन्हें रैली में नियम तोड़ने पर नोटिस दिया है। उनके साथ-साथ एमएनएस कार्यकर्ताओं को भी पुलिस ने नोटिस दिया है। पुलिस ने धारा 149 के तहत ये नोटिस भेजा है। कहा जा रहा है कि आपराधिक रिकॉर्ड वाले एमएनएस कार्यकर्ताओं को पुलिस हिरासत में ले सकती है।

शर्तों का उल्लंघन हुआ तो होगी राज पर कार्रवाई

औरंगाबाद में हुई राज ठाकरे की रैली को शर्तों के साथ अनुमति मिली थी. अब पुलिस टेप मंगाकर रैली के भाषणों की जांच करेगी औऱ देखेगी कि शर्तों का कितना पालन हुआ। इसके लिए पुलिस ने राज ठाकरे के भाषण का टेप मंगवा लिया है।

Back to top button