समाचार

IAS पति पर पत्नी के साथ मारपीट और दहेज उत्पीड़न का केस दर्ज: बुराई कहीं भी पनप सकती है!

अक्सर देखा जाता है बहुत पढ़े लिखे और समाज में बहुत संपन्न और सभ्य दिख रहे लोगों के घरों में भी ऐसी बुराईयों और दुर्गुणों का बोलबाला हो जाता है, जिसकी सामान्य रूप से उम्मीद नहीं रहती है। लेकिन ऐसा अक्सर होता है और ये कहना पड़ता कि अगर आप अच्छाई और सच्चाई के रास्ते से थोड़े भी डिगे तो बुराई कभीं भी कभी भी अपनी जड़ तलाश सकती है और पनप सकती है।

ऐसी ही एक घटना मध्य प्रदेश से सामने आई है जहां उच्च शिक्षा प्राप्त पति-पत्नी, जिनमें पति IAS अफसर है और पत्नी IRS अफसर है, उनमें कलह, मारपीट और दहेज प्रताड़ना जैसी स्थिति पैदा हो गई। अब पीडित पत्नी ने पति के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है जिसके बाद पुलिस ने FIR दर्ज कर ली है।

IAS अफसर पर मारपीट और दहेज का केस

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) के अफसर मोहित बुंदस के खिलाफ दहेज प्रताड़ना और पत्नी से मारपीट का केस दर्ज किया गया है। IAS बुंदस की पत्नी भी भारतीय राजस्व सेवा (IRS) अफसर हैं। इस मामले में बुंदस की मां और बहनों को भी आरोपी बनाया गया है।

असिस्टेंट पुलिस कमिश्नर निधि सक्सेना के अनुसार, 38 साल के मोहित बुंदास के खिलाफ उनकी पत्नी शोभना मीणा ने मंगलवार रात शिकायत दर्ज कराई थी। दहेज प्रताड़ना और मारपीट के मामले में आईएएस मोहित बुंदास सहित उनकी मां और दो बहनों को भी आरोपी बनाया गया है।

IAS अफसर की अबतक गिरफ्तारी नहीं

महिला थाना पुलिस ने बताया कि महिला अधिकारी की शिकायत के बाद पहले प्रारंभिक जांच की गई और बाद में आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई। इस मामले में फिलहाल कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है और पुलिस इस मामले में आगे की जांच कर रही है।

IRS पत्नी ने दर्ज कराई शिकायत

भोपाल में ही पदस्थ आईआरएस शोभना मीणा ने अपने शिकायती आवेदन में कहा है कि मंगलवार को जब वह अपने दफ्तर में थीं, तभी दोपहर उनके पति मोहित बुंदस वहां घुस आए और उनके साथ गाली गलौज करने लगे। इस दौरान वह अभद्रता पर उतर आए और मारपीट करने लगे। साल 2012 में दोनों की शादी हुई थी। उनका एक बेटा भी है। शोभना का आरोप है कि शादी के बाद से सास और दो ननद उनको शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित करती थीं।

कई बड़े पदों पर रह चुके हैं बुंदस

बुंदस 2011 कैडर के मध्य प्रदेश बैच के आईएएस हैं और वन विभाग में उप सचिव हैं। इससे पहले आईएएस बुंदस छतरपुर सहित कई जिलों के कलेक्टर रह चुके हैं, जहां उनकी कार्यशैली के चलते कई विवाद पैदा हुए और तमाम राजनीतिक दलों के जनप्रतिनिधियों ने उन्हें हटाने की मांग की थी। बुंदास ने भोपाल में अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट (ADM) के रूप में भी काम किया है।

Back to top button