डोनाल्ड ट्रम्प ने दी पाकिस्तान को आखरी चेतावनी बोला सुधर जाए पाकिस्तान नहीं तो…

पाकिस्तान इकलौता ऐसा देश है जिससे की लगभग हर देश परेशान ही रहता है. पाकिस्तान को बार-बार मिलने वाली चेतावनियों के बाद भी कोई फर्क नहीं पड़ता. हम सभी को पता है कि सबसे ज़्यादा आंतकवाद को बढ़ावा पाकिस्तान से मिलता है, और सबसे ज़्यादा आंतकवाद भी पाकिस्तान में ही पनपता है. लेकिन इस बार पाकिस्तान को अमेरिका की तरफ से एक ऐसी बड़ी चेतावनी मिली है जिसे चाहते हुए भी वह नज़रअंदाज़ नहीं कर सकता. कहा जा रहा है की इतनी कड़ी चेतावनी पाकिस्तान को इससे पहले कभी नहीं दी गयी थी.

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ये कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे :

Counter extremism program

जनरल एच आर मेकास्टर जो की अमेरिका के राष्ट्रीय सलाहकार हैं, ने कहा है कि “इस बार पाकिस्तान अगर आतंकवाद को समर्थन देता है, तो राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ये कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे”. इसके अलावा ट्रम्प ने कहा की “पाकिस्तान आतंकवादियों के गिरोह के पालने की नीति को भी अगर जल्द से जल्द नहीं बदलता है तो, इसके परिणाम भुगतने के लिए वह तैयार हो जाए”.

और क्या-क्या कहा मेकास्टर ने

मेकास्टर ने यह भी कहा की पाकिस्तान की फ़ौज उन आतंकवादियों को तो मार देती है जिनसे वे खुद परेशान है, पर अगर भारत और अफ़ग़ानिस्तान पर हमला हो जाए तो उनके खिलाफ़ कुछ नहीं करती. मेकास्टर ने हक्कानी गिरोह और तालिबान आदि की तरफ इशारा करते हुए कहा कि पाकिस्तान को अब विदेश नीति के खिलाफ़ आतंकवाद को अपना हथियार बनाना बंद कर देना चाहिए. मेकास्टर के उत्तेजित होने का एक कारण ईरान सरकार से तालिबान को मिलने वाला मदद भी था. इस बात से राष्ट्रपति ट्रम्प  इतने नाराज़ हो चुके हैं की उन्होंने ईरान पर कुछ नए प्रतिबंध भी लगा दिए हैं. देखा जाए तो अफ़ग़ानिस्तान में अगर ये दोनों देश यानी की- ईरान और पाकिस्तान मिलकर आतंक को बढ़ावा देने लगते हैं, तो वहां पर ट्रम्प की रणनीति बिल्कुल फ़ेल हो जायेगी. रणनीति फ़ेल होने के डर से ट्रम्प ने  ओबामा की अफ़ग़ान-नीती को भी पूरे तरीके से बदल डाला है.

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.