समाचार

लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा पाठ पर भड़कीं सपा नेता, मंदिर के सामने कुरान पढ़ने की धमकी दी

अजान बनाम हनुमान चालीसा का विवाद बढ़ता जा रहा है। अब एक मुस्लिम नेता ने लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा बजाने के खिलाफ मंदिरों के सामने कुरान पढ़ने की धमकी दी है। अलीगढ़ में सपा की महिला नेता रूबीना खानम ने धमकी देते हुए कहा कि मुस्लिमों को छेड़ने की कोशिश न की जाए। अगर मस्जिदों के सामने हनुमान चालीसा पढ़ी गई तो हम भी मंदिरों के सामने बैठकर कुरान का पाठ करेंगे। इसका मोर्चा हम महिलाएं संभालेंगी।

सपा नेता रूबीना खानम की धमकी

रूबीना ने कहा कि मस्जिदों और मंदिरों पर बहुत पहले से लाउडस्पीकर लगे हुए हैं। रमजान के पवित्र महीने में हमें अपनी धार्मिक गतिविधियां करने दें। जिस तरह से उसमें अड़ंगा लगाया जा रहा है गलत है। सपा महिला सभा की महानगर अध्यक्ष रुबिना खानम ने चेतावनी देते हुए कहा कि हिंदूवादियों ने अगर मुस्लिम धर्म को टारगेट कर मस्जिदों पर लगे लाउडस्पीकर उतरवाने की कोशिश की तो सैकड़ों महिलाएं प्रदर्शन करेंगी। कहा कि अराजकतत्व कहते हैं कि लाउडस्पीकर उतार दें नहीं तो हम हनुमान चालीसा पढ़ेंगे।

गौरतलब है कि अलीगढ़ में हिंदूवादी संगठनों ने 21 चौराहों पर लाउडस्पीकर लगाकर हनुमान चालीसा पढ़ने का ऐलान किया है। इससे पहले वाराणसी में भी अजान के समय लाउडस्पीकर लगाकर हनुमान चालीसा पाठ की धमकी दी गई थी।

रुबिना खानम ने कहा कि अगर मस्जिदों से लाउडस्पीकर उतारने का काम किया गया तो मंदिरों के सामने सैकड़ों मुस्लिम महिलाएं कुरान बैठकर पढ़ेंगी। हम ये काम शांतिपूर्ण तरीके से करेंगे। हमारा आचरण आप जैसा नहीं है। आपको समझाना चाहती हूं कि अपने धर्म का पालन करें। सबकी आस्था का सम्मान करें।

रुबीना खानम ने कहा कि रमजान के पवित्र महीने में आप अड़ंगा लगा रहे है। हम हमेशा से ही धर्म के काम करते आ रहे हैं। हमेशा से ही मस्जिदों में लाउडस्पीकर लगे हैं। इसलिए आप अपने धर्म का पालन करो और हम अपने धर्म का करने दो।

बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी की सरकार मुसलमान और हिंदुओं को लड़ाना चाहती है। ये वही सरकार है जो अपनी आस्था को भूल चुकी है, अपने आचरण को भूल चुकी है। बीजेपी सब बातों को भूल चुकी है। उन्होंने कहा कि आप लोग मुसलमान समुदाय को छेड़ने की कोशिश न करें, हमारे धर्म, आस्था, जज्बात से खिलवाड़ करने की कोशिश न करें। अगर ऐसा हुआ तो हम महिलाएं मोर्चा संभालेंगी।

Back to top button