समाचार

हरियाणा में ट्रेन में पत्नी को बैठाकर फरार हुआ पति, बिहार पहुंचते ही फोन पर मिला तीन तलाक, अब..

भारत में तील तलाक के खिलाफ कानून बन गया है और सरकार इसे लेकर काफी सख्त है लेकिन फिर भी कुछ लोग तीन तलाक का इस्तेमाल कर अपनी पत्नियों पर अत्याचार कर रहे हैं। ऐसा ही एक मामला सामने आया है जिसमें शादी के एक महीने बाद ही ससुराल वालों ने बहू को एक लाख रुपये दहेज के लिए प्रताड़ित करना शुरू कर दिया।

रकम देने से इनकार करने पर काफी मारपीट की। फिर एक दिन बीवी को ट्रेन में बिठाकर शौहर फरार हो गया इसके पांच महीने बाद दहेज लोभी पति ने मोबाइल पर काल कर तीन तलाक दे दिया। महिला थाना से लेकर एसपी तक चक्कर काटने के बावजूद प्राथमिकी दर्ज नहीं हो सकी है।

जून में शादी, दिसंबर में तीन तलाक

बिहार के नवादा के रहने वाले नौशाद आलाम की बेटी सबा परवीन ने बताया कि उसकी शादी 1 जून 2021 को हरियाणा के नूहं जिले के सदर थाना क्षेत्र के मालब गांव निवासी लल्लू खां के पुत्र मो. आरिफ के साथ हुई थी। तब चार लाख रुपये नगद, जेवरात, घरेलू सामान आदि दिए गए थे। 4 जून को विदा होकर ससुराल पहुंची। इसके कुछ दिनों बाद तरह-तरह का ताना देते हुए एक लाख रुपये और दहेज के रूप में मांग की जाने लगी। रकम नहीं देने पर ससुराल वालों ने शारीरिक व मानसिक रूप से प्रताड़ित किया।

शादी के एक महीने बाद ही पति ने हावड़ा मेल ट्रेन में बिठा दिया और वहां से गायब हो गया। फिर मायके वालों से संपर्क कर पकरीबरावां पहुंची। इसके बाद ससुराल वालों से कई बार बातचीत करने का प्रयास किया गया, लेकिन वे लोग मुझे ससुराल ले जाने को तैयार नहीं हुए। दिसंबर महीने में पति ने मोबाइल फोन कर तीन तलाक देकर जिंदगी बर्बाद कर दी।

पहले भी शादी कर चुका था आरिफ

सबा ने बताया कि पति आरिफ एक और शादी पहले कर चुका था, जिसकी जानकारी मुझे ससुराल जाने पर मिली। वह अपनी पहली पत्नी और बच्चों को छोड़ दिया था। मुझे प्रताड़ित करते हुए कहता था कि जिस प्रकार पहली पत्नी को छोड़ दिए हैं, उसी तरह तुम्हारी जिंदगी भी बर्बाद कर देंगे। इस मामले पर हमने महिला थाना से संपर्क करने की कोशिश की लेकिन उन्होंने फोन उठाना भी उचित नहीं समझा।

Back to top button