समाचार

मध्य प्रदेश: मस्जिदों में CCTV कैमरे लगाने का निर्णय, जानिए क्यों सरकार ने पहल का स्वागत किया

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के शहर काजी ने बड़ा फैसला किया है। उन्होंने मस्जिदों में सीसीटीवी कैमरे लगाने की पहल की है। मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने मस्जिदों में सीसीटीवी कैमरे लगाने की पहल का स्वागत किया है। उन्होंने भोपाल शहर काजी सैयद मुस्ताक अली नदवी के नेतृत्व में मुस्लिम नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात के बाद कहा कि यह एक अच्छी पहल है।

इससे भ्रम दूर होगा

नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि भोपाल शहर काजी की मस्जिदों में सीसीटीवी लगाने की पहल अच्छी है। यदि यह भ्रम को दूर करता है और आपसी विश्वास का निर्माण करता है, तो इसका स्वागत किया जाना चाहिए। बता दें कि शहर काजी ने सभी सदस्यों से सभी मस्जिदों के आस-पास सीसीटीवी कैमरे लगाने को कहा है।

मुस्लिम समुदाय को दिया भरोसा

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि मैं उनसे मिला और उनकी सभी आशंकाओं को दूर करने की कोशिश की। मैंने साफ कर दिया कि बेगुनाहों को परेशान नहीं किया जाएगा लेकिन दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने मुस्लिम नेताओं से सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने वालों की पहचान करने में सहयोग करने का भी आग्रह किया। नरोत्तम मिश्रा ने इन खबरों का खंडन किया कि कई लोग अपने घरों को बेचने रहे हैं और पलायन कर रहे हैं। उन्होंने मीडियाकर्मियों से कहा कि यह निराधार जानकारी है।

मध्य प्रदेश के सभी जिलों में अलर्ट

खरगोन हिंसा पर सूबे के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि स्थानीय प्रशासन स्थिति की समीक्षा करने के बाद कर्फ्यू में ढील देने का फैसला करेगा। उन्होंने कहा कि जिले में अब शांति और व्यवस्था है। वहीं उन्होंने यह भी कहा कि कई त्यौहार आ रहे हैं। इसे देखते हुए मध्य प्रदेश के सभी जिले अलर्ट मोड पर हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी मंत्रियों को एहतियात के तौर पर अपने-अपने जिलों पर नजर रखने का निर्देश दिया है।

आपको बता दें कि एमपी के खरगौन में रामनवमी का जलूस जब मुस्लिम बाहुल्य इलाके से निकल रहा था तो उस पर जमकर पथराव हुआ था जिसमें कई पुलिसकर्मियों समेत कई लोग घायल हो गए थे। जिसके बाद प्रशासन सख्त कार्रवाई करते हुए पथराव के आरोपियों के घरों पर बुल्डोजर चलाकर उन्हें गिरा दिया था।

Back to top button