समाचार

एक भारतीय कंपनी ने कर्मचारियों को तोहफे में दी BMW कारें, ऐसे मिला करोड़ों का सरप्राइज गिफ्ट

चेन्नई स्थित आईटी कंपनी Kissflow Inc ने भी अपने कर्मयारियों के काम से खुश होकर जो तोहफा उन्हें दिया वैसा तोहफा शायद ही कोई कंपनी अपने कर्मचारियों को देती है। कंपनी ने बढ़िया परफॉर्म करने वाले 5 कर्मचारियों को पिछले सप्ताह BMW कारें तोहफे में दी।

.अक्सर कंपनियां अपने कर्मचारियों को तरह-तरह के प्रोत्साहन देती हैं। इनमें बोनस से लेकर शेयर देने जैसे प्रचलन तो शामिल हैं ही, कई बार कुछ कंपनियां कर्मचारियों को उनकी मेहनत के बदले महंगे तोहफे भी देती हैं। लेकिन इस कंपनी ने अपने इन कर्मचारियों को जो गिफ्ट दिया उसे पाकर उनकी बल्ले-बल्ले हो गई।

गिफ्ट में BMW कार मिली

शुक्रवार को एक समारोह आयोजित कर पांच सीनियर कर्मचारियों को बीएमडब्ल्यू कारें दी गईं, जिनकी कीमत 1-1 करोड़ रुपये है। पांचों कर्मचारियों को पहले से इसकी भनक भी नहीं लग पाई थी। उन्हें इस सरप्राइज तोहफे के बारे में कुछ ही घंटे पहले पता चल पाया था।

मुसीबत में भी दिया साथ

कंपनी के सीईओ सुरेश सम्बन्दम ने बताया कि जिन पांच कर्मचारियों को तोहफे में बीएमडब्ल्यू कारें दी गई हैं, वे सारे कंपनी की शुरुआत के समय से उनके साथ बने हुए हैं। उन्होंने बताया कि गिफ्ट पाने वालों में से कुछ बेहद साधारण बैकग्राउंड वाले हैं। और कंपनी ज्वॉइन करने से पहले काफी चुनौतियों का सामना कर चुके हैं।

उन्होंने कहा कि कंपनी ने खुद भी कई प्रतिकूल परिस्थितियों का सामना किया है। यहां तक कि कोविड महामारी के दौरान कंपनी के कुछ निवेशकों ने सक्सेसफुल ऑपरेट हो पाने पर आशंका जता दी थी।

सम्बन्दम ने कहा, ‘हमारे सामने मुश्किल समय था। यहां तक कि महामारी के दौरान निवेशकों को इस बात का संदेह हो गया था कि कंपनी चल भी पाएगी। आज हम बेहद खुश हैं कि हमने निवेशकों का पैसा लौटा दिया है और पूरी तरह से प्राइवेट कंपनी बन चुके हैं।

ये कारें उन पांच लोगों के लिए है, जो तब मेरे साथ थे, जब मैं सोने के लिए 100 फीट की खुदाई कर रहा था.’ सोने की खुदाई करने से किस्सफ्लो सीईओ का तात्पर्य इस बात से था कि जब कई लोग बीच में ही छोड़कर जा रहे थे, ये पांचों उनके साथ बने रहे।

सरप्राइज गिफ्ट दिया गया

पांचों भाग्यशाली कर्मचारियों को कंपनी सीईओ की ओर से BMW 530d मॉडल गिफ्ट की गई। नेवी ब्लू 5 सीरिज की इन कारों की कीमत 1-1 करोड़ रुपये है। जिन कर्मचारियों को तोहफे दिए गए, उनमें चीफ प्रॉडक्ट ऑफिसर दिनेश वरदराजन, प्रॉडक्ट मैनेजमेंट के डाइरेक्टर कौशिकराम कृष्णासाई, डाइरेक्टर विवेक मदुरई, डाइरेक्टर आदि रामानाथन और वाइस-प्रेसीडेंट प्रसन्ना राजेंद्रन शामिल हैं। इनमें से कइयों ने इवेंट की जानकारी मिलने पर सोचा था कि बॉस के साथ खाने पर जाना होगा।

Back to top button