समाचार

परिवार के 11 सदस्यों ने राष्ट्रपति से इच्छामृत्यु मांगी, जानिए क्यों सभी एकसाथ मरना चाहते हैं

मध्य प्रदेश के ग्वालियर से बेहद हैरान करने वाली खबर आई है। यहां एक ही परिवार के 11 सदस्य एक साथ मरना चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने राष्ट्रपति से इच्छामृत्यु की मांग की है। क्या है पूरा मामला आपको आगे बताते हैं।

राष्ट्रपति को भेजा पत्र

एमपी के ग्वालियर में एक ही परिवार के 11 सदस्यों ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर इच्छा मृत्यु की मांग की है। जानकारी के अनुसार, घाटीगांव तहसील के वीराबली गांव में रहने वाले एक परिवार के 11 सदस्यों ने इच्छा मृत्यु की मांग की है।राष्ट्रपति के नाम लिखे पत्र को उन्होंने शनिवार को पुलिस और प्रशासनिक अफसरों को दिया है।

दबंगों ने जीवन को मौत बना दिया

इस परिवार का आरोप है कि इलाके दो दबंगों ने उनके परिवार की जिंदगी को मौत से भी बदतर बना दिया है। इस परिवार का आरोप है कि संजय अग्रवाल और विजय काकवानी नामक दबंग लोग उनकी एक बीघा 2 बिस्वा जमीन पर जबरन कब्जा करना चाह रहे हैं।

उनका कहना है कि इस विवादित जमीन का सीमांकन बटांकन हेतु तहसीलदार के यहां 2 महीने पहले आवेदन किया जा चुका है फिर भी तहसीलदार कार्यालय द्वारा कोई भी कार्रवाई नहीं की गई है। इस परिवार का आरोप है कि राजस्व विभाग की मिलीभगत से उनकी जमीन पर जोर जबरदस्ती करके अवैध कॉलोनी काटी जा रही है। इस कॉलोनी को संजय अग्रवाल और विजय काकवानी एवं उनके साथियों द्वारा जबरन काटा जा रहा है।

इस परिवार का यह भी कहना है कि सर्वे क्रमांक 1584 कि उक्त जमीन उनकी है, लेकिन दबंग लोग हमारी पुश्तैनी जमीन पर कब्जा करके कॉलोनी का निर्माण कर रहे हैं और प्लॉट काटकर दूसरे लोगों को बेचने की कोशिश में लगे हुए हैं।

कई बार इन लोगों को समझाने की कोशिश की गई लेकिन वह उल्टे जान से मारने की धमकी देते हैं। पीड़ित परिवार का कहना है कि उनके जीवन यापन के लिए सिर्फ यही जमीन है, यदि जमीन चली जाती है तो परिवार के सभी सदस्यों को आत्महत्या के लिए मजबूर होना पड़ेगा। साथ ही इस परिवार ने कॉलोनाइजर संजय अग्रवाल से अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा की गुहार लगाई है। राष्ट्रपति के नाम लिखे गए उनके आवेदन को कलेक्टर कार्यालय और एसपी कार्यालय में दिया गया है लेकिन अफसरों से इन लोगों की कोई बातचीत नहीं हो सकी है।

Back to top button