समाचार

फुटपाथ पर बैठे मोची को सीएम शिवराज ने लगाया गले, इतनी धनराशि दी कि आंखों से आंसू निकल पड़े

मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान छवि आम जनता के लिए ‘मामा’ वाली है तो अपराधियों के प्रति ‘मामा का बुल्डोजर’ वाली है। आम जनता के कष्टों को दूर करने के लिए वो हमेशा तत्पर रहते हैं। मध्य प्रदेश के सीहोर जिले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपने उदार मामा वाले अंदाज में दिखाई दिए। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यहां फुटपाथ पर बैठकर जूते ठीक करने वाले मोची को न केवल गले लगाया, बल्कि उसे आर्थिक सहायता भी भिजवाई। पहले तो शख्स को यकीन नहीं हुआ, लेकिन जब हाथों में चेक आया तो आंखें छलक गईं।

सीएम ने मोची को लगाया गले

दरअसल, कुछ दिनों पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सीहोर जिला के तहत नसरूल्लागंज शहर का गौरव दिवस मनाने पहुंचे थे। इस दौरान उनकी नजर चिलचिलाती धूप में फुटपाथ पर बैठे मोची अरुण बढोले पर पड़ी। सीएम चौहान ने काफिला रुकवाया और अरुण का दुख-दर्द जानने पहुंचे। पूरी कहानी सुनने के बाद सीएम चौहान ने चलते-चलते उन्हें गले से भी लगा लिया और आगे बढ़ गए।

जब गरीब आदमी की आंखें भर आईं

इस घटना को अरुण भूल गए और फिर अपनी रोजी-रोजी में जुट गए। कुछ दिनों बाद उन्हें नगर परिषद ने बुलाया और कहा कि सरकार ने सहायता राशि भेजी है। इस सूचना से अरुण पहले घबरा गए और वहां जाने से मना कर दिया। लेकिन, उसके बाद नगर परिषद ने उन्हें सम्मान से दोबारा बुलाया और 25 हजार रुपये का चेक दिया।

अरुण ने बताया कि पहले तो उसे इस बात पर यकीन नहीं हुआ। लेकिन, जब नगर परिषद ने दोबारा बुलाया और कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उसे रोजगार में मदद के लिए यह राशि भेजी है, तो फिर उसे यकीन हो गया। अरुण के हाथों जब चेक आया, तो वे रो पड़े। उन्हें इसकी उम्मीद ही नहीं थी। उन्होंने सीएम चौहान को धन्यवाद दिया और काम में जी-जान लगाने की बात कही।

मामा के साथ मामा का बुलडोजर वाली छवि

मुख्यमंत्री शिवराज को लोग अब मामा के साथ-साथ बुलडोजर सीएम भी कहने लगे हैं। कई शहरों में तो मामा का बुल्डोजर वाली होर्डिंग भी लगी हैं। इसकी वजह यह कि शिवराज सरकार ने बड़ी सख्ती से अपराधियों, माफिया और भ्रष्टाचारियों की संपत्ति पर बुल्डोजर चलवा है।

Back to top button