समाचार

रमजान महीने में मुस्लिम इलाकों में नहीं कटेगी बिजली: राजस्थान सरकार का नया सेकुलरिज्म

सेक्युलर पार्टी का दंभ भरने वाली पार्टी कांग्रेस की राजस्थान में सरकार है। अब राजस्थान के ऊर्जा मंत्री ने जयपुर डिस्कॉम को एक ऐसा निर्देश जारी कर दिया है जिस पर सियासी बवाल मच गया है। लोग कह रहे हैं कि कांग्रेस सेक्युलर नहीं तुष्टीकरण करने वाली पार्टी है। इसमें निर्देश दिया गया है कि पूरी रमजान महीने के दौरान मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में बिजली ना काटी जाय। अब बीजेपी ने इसे लेकर कांग्रेस पर हमला बोल दिया है।

मुस्लिम बाहुल्य इलाके के लिए आदेश

राजस्थान में रमजान के महीने में मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में बिजली कटौती नहीं की जाएगी। इसको लेकर विद्युत वितरण कंपनियों ने आदेश जारी कर दिये हैं। आदेश में कहा गया है कि मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में रमजान के दौरान निर्बाध बिजली आपूर्ति की जाए। इसको लेकर हाल ही में मंत्री जाहिदा खान ने अशोक गहलोत सरकार के ऊर्जा मंत्री भंवर सिंह भाटी को लिखा पत्र था। उसके बाद ऊर्जा मंत्री भाटी के निर्देश पर तीनों बिजली वितरण कंपनियों ने इसके आदेश जारी कर दिये हैं।

सियासी बवाल मचा

इस मामले को लेकर प्रदेश में राजनीति गरमाने लगी है। रमजान के महीने में बिजली कटौती ना करने से जुड़े ये आदेश सोशल मीडिया पर जमकर वायरल भी हो रहे हैं।

दरअसल राजस्थान की बिजली कंपनियों में शामिल जोधपुर और जयपुर डिस्कॉम की ओर से 1 आदेश जारी किया गया है कि रमजान के महीने में बिजली की निर्बाध सप्लाई दी जाए। रमजान के महीने में किसी प्रकार की बिजली कटौती नहीं की जाएये। ये आदेश जारी होते ही राजस्थान में सियासी पारा गरमा गया। बीजेपी ने इन आदेशों का विरोध करना शुरू कर दिया है। वहीं सोशल मीडिया पर भी बहस छिड़ गई है।

कांग्रेस तुष्टीकरण करती है-बीजेपी

बीजेपी नेताओं ने इसे राजस्थान की कांग्रेस सरकार की तुष्टिकरण की राजनीति से जुड़ा आदेश करार दिया है। वहीं जोधपुर विद्युत वितरण निगम के एमडी की मानें तो यह सामान्य आदेश है। इसमें संशोधन कर दिया गया है। राजस्थान के ऊर्जा मंत्री भंवरसिंह भाटी ने बीजेपी के नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा है कि सभी त्योहारों पर निर्बाध बिजली की आपूर्ति करना बिजली विभाग का कार्य होता है।

ऊर्जा मंत्री ने दी ये सफाई

भाटी ने कहा कि यह आदेश कि किसी धर्म या तुष्टिकरण की राजनीति से नहीं जुड़ा है। उन्होंने कहा कि बीजेपी बेवजह की राजनीति कर रही है।

गुलाबचंद कटारिया ने लगाया ये बड़ा आरोप

वहीं नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार पर तीखे हमले बोले हैं। उन्होंने कहा है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत धर्म के आधार पर बिजली का वितरण करेंगे जनता को उनसे ऐसी उम्मीद नहीं थी।बीजेपी नेता गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि मुस्लिम समुदाय को अपने प्रभाव में लेने के लिए सरकार ने इस तरह के आदेश जारी किया है। उन्होंने सवाल उठाया कि क्या कांग्रेस सरकार को अन्य धर्मों के त्योहार नजर नहीं आते हैं? आपको बता दें कि बवाल मचने पर आदेश से रमजान और मुस्लिम बाहुल्य शब्द हटाने के निर्देश दिए गए हैं लेकिन  बिजली कंपनियों का यह आदेश सरकार के लिए नई मुसीबत बनता हुआ नजर आ रहा है।

Back to top button