समाचार

‘अल्लाह-हू-अकबर’ नारा लगाते जेहादी हथियार ले गोरखनाथ मंदिर में घुसा, हमले में 2 जवान घायल

गोरखपुर में गोरखनाथ मंदिर में एक युवक धारदार हथियार लेकर हमले की मंशा से घुसा और वहां तैनात सुरक्षा जवानों पर हमला कर दिया। हमले में दो जवान घायल हो गए हैं। जवानों ने वहां मौजूद श्रद्धालुओं की मदद से किसी तरह युवक को दबोच लिया। युवक के साथ एक और संदिग्ध भी हमले में शामिल था, जो हमले के बाद फरार होने में कामयाब हो गया। पुलिस को हमला करने वाले युवक के बारे में जो जानकारी मिली है वो बेहद चौंकाने वाली है।

मंदिर परिसर में सीएम योगी का आवास 

गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर में ही गोरक्षपीठ के महंत यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ  का आवास भी है। मुख्‍यमंत्री होने के नाते मंदिर परिसर के चप्‍पे-चप्‍पे पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम रहते हैं। रविवार की शाम 7 बजे के करीब गोरखनाथ मंदिर के दक्षिणी गेट पर दो संदिग्‍ध पहुंचे और दक्षिणी गेट पर तैनात पीएसी 20वीं बटालियन आजमगढ़ के सिपाही गोपाल कुमार गौड़ की एसएलआर राइफल छीनने की कोशिश करने लगे।

जब तक गोपाल संभलते एक संदिग्‍ध ने कमर में छुपाकर रखे धारदार हथियार (बांकी) से उनपर हमला कर दिया। इस बीच उसे पकड़ने की कोशिश करने वाले जवान अनिल कुमार पासवान को भी उसने हमला कर घायल कर दिया।

‘अल्लाह-हू-अकबर’ नारा लगा रहा था आरोपी

इसके बाद संदिग्‍ध अल्‍लाह-हू-अकबर का नारा लगाते हुए मंदिर के अंदर प्रवेश करने लगा। साइकिल स्‍टैंड के पास तैनात पीएसी के बहादुर जवान अनुराग ने लोगों की मदद से उसे दबोच लिया। संदिग्‍ध के हाथ में बांकी से चोट लगी है। घायल पीएसी के जवानों को तत्‍काल गोरखनाथ चिकित्‍सालय में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है।

हमलावर युवक की पहचान हुई

आरोपी की पहचान गोरखपुर के कैण्‍ट थानाक्षेत्र के सिविल लाइन्‍स पार्क रोड स्थित सिटी मॉल के सामने गली में अब्‍बासी नर्सिंग होम के पास के रहने वाले मोहम्‍मद अहमद मुर्तजा पुत्र मुनीज मुर्तजा के रूप में हुई है।

आईआईटी मुंबई से कैमिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने वाले मोहम्‍मद अहमद मुर्तजा के पास से बरामद बैग से पुलिस ने दाव, लैपटॉप, पैनकार्ड और एयरलाइंस का टिकट बरामद किया है। हमलावार के साथ एक अन्‍य संदिग्‍ध के होने की आशंका को देखते हुए गोरखनाथ मंदिर और आसपास के क्षेत्र में तलाशी की जा रही है।

आईआईटी मुंबई से ग्रेजुएट है आरोपी

एडीजी ने बताया कि पूरे घटनाक्रम की जांच हर एंगल से चल रही है। घटना के दौरान ये धार्मिक नारे भी लगा रहा था। इस वजह से टेरर एंगल पर भी छानबीन चल रही है। एटीएस दस्‍ता और इंटेलीजेंस की टीम द्वारा इसपर संयुक्‍त जांच की जा रही है। उसके पास से मोबाइल फोन, मुंबई का एयर टिकट और लैपटाप भी मिला है। इसके अलावा जो चीजें बरामद हुई हैं, उसे डिस्‍क्‍लोज नहीं कर रहे हैं। 2015 में इसने आईआईटी मुंबई से ग्रेजुएशन किया है। काफी पढ़ा-लिखा है। ऐसी स्थिति में घटना क्‍यों की इसकी गहराई से छानबीन की जरूरत है।

Back to top button