समाचार

आर्यन खान ड्रग केस के प्रमुख गवाह प्रभाकर सेल की मौत, समीर वानखेड़े पर लगाए थे कई आरोप

आर्यन खान ड्रग्स केस के प्रमुख गवाह प्रभाकर सेल की शुक्रवार को मौत हो गई है। प्रभाकर सेल कॉर्डेलिया क्रूज ड्रग मामले में एनसीबी के प्रमुख गवाह थे।उनके वकील तुषार खंडारे ने बताया कि, कल चेंबूर के माहुल इलाके में उनके आवास पर दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया। प्रभाकर सेल का पार्थिव शरीर आज अंधेरी स्थित उनके दूसरे आवास पर लाया जाएगा। वहीं पर उन्हें अंतिम विदाई भी दी जाएगी।

समीर वानखेड़े पर लगाई थे आरोप

प्रभाकर सेल वही शख्स थे, जिसने नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) मुंबई के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े पर 25 करोड़ रुपये रिश्वत मांगने का आरोप लगाया था। इस केस में केपी गोसावी का नाम भी काफी चर्चा में रहा था और प्रभाकर सेल ने दावा किया था कि वो उसके ड्राइवर रह चुके थे।

केपी गोसावी वहीं शख्स है जिसके साथ आर्यन खान के बेटे की सेल्फी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुई थी। इसके अलाव प्रभाकर सेल ने एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े पर आरोप लगाया था कि उन्होंने इस मामले में गवाहों को खरीदने की कोशिश की थी।

प्रभाकर के अनुसार ड्रग केस मामले में 25 करोड़ रुपये के भुगतान पर चर्चा की गई थी, जिसमें से एक अधिकारी समीर वानखेड़े के लिए 8 करोड़ रुपये लेने की बात हो रही थी। बता दें कि पहले वानखेड़े एनसीबी जांच का नेतृत्व कर रहे थे। लेकिन प्रभाकर के दावों के तुरंत बाद, एनसीबी हरकत में आई और समीर वानखेड़े व अन्य के बयान दर्ज करने के लिए पांच सदस्यीय टीम को मुंबई भेजा दिया।

क्या है आर्यन खान ड्रग केस मामला 

इस हाई प्रोफाइल ड्रग्स मामले में बॉलीवुड के ऐक्टर शाहरूख खान के बेटे आर्यन खान  की भी गिरफ्तारी हुई थी। पिछले साल 2 अक्टूबर को मुंबई से गोवा जा रहे एक क्रूज शिप पर समीर वानखेड़े ने रेड की थी। इस दौरान उन्होंने आर्यन खान समेत 9 लोगों को ड्रग्स मामले में शामिल होने के आरोप में गिरफ्तार किया था।

कई अदालती सुनवाई और 26 दिनों की लंबी हिरासत के बाद बॉम्बे हाईकोर्ट ने 28 अक्टूबर को आर्यन को जमानत दे दी थी। इसी मामले के दौरान समीर वानखेड़े पर रिश्वत लेने का आरोप लगा था। साथ ही महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक ने भी समीर वानखेड़े पर तमाम तरह के भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे। मामला अब भी कोर्ट में चल रहा है।

Back to top button