हिन्दी समाचार, News in Hindi, हिंदी न्यूज़, ताजा समाचार, राशिफल

हिन्दुस्तान के दुश्मनों को नेस्तानाबूत करेगी दुनिया की सबसे घातक ‘Killer शार्क’

नई दिल्ली – डोकलाम को लेकर चीन के साथ जारी तनाव के बीच देश अब अपनी समुद्री ताकत को बढ़ाने जा रहा है। क्योंकि, जल्द ही दुनिया के सबसे खतरनाक युद्धपोतों में शामिल पनडुब्बी आईएनएस कलवरी भारतीय नौसेना को मिलने वाली है। आपको बता दें कि आईएनएस कलवरी को देश का सबसे घातक जंगीबेड़ा माना जाता है। यह सबमरीन (पनडुब्बी) दुश्मन पर छुपकर हमला करने में सक्षम है। India stealthiest submarines.

समुद्र में सबसे घातक जंगीबेड़ा उतारेगा भारत :

डोकलाम को लेकर चीन के साथ जारी तनाव के बीच देश अब अपनी समुद्री ताकत को बढ़ाने की तैयारी में जुट गया है। यह खतरनाक जंगीबेड़ा दुश्मन पर छुपकर हमला करने में सक्षम है। यह जंगीबेड़ा दुश्मन पर इतने गुपचुप तरीके से हमला करता है कि दुश्मन को भनक तक नहीं लग पाती। इसी वजह से इसका समुद्र में पाये जाने वाली शार्क मछली के नाम पर ‘कलवरी’ नाम रखा गया है। आपको बता दें कि इंडियन नेवी काफी समय बाद इस जंगीबेड़े को अपने बेड़े में शामिल करने जा रही है।

चीन से निपटने की तैयारी में भारत :

बात अगर चीन और भारत के समुद्री ताकत कि करें तो भारत के समुद्री बेड़े में इस वक्त केवल 15 पनडुब्बियां हैं। जबकि चीन के बेड़े में 60 पनडुब्बियां हैं। इसले अलावा चीन की समुद्री ताकत और हिंद महासागर में दखलंदाजी चलते बढ़ती ही जा रही है जो भारत की सुरक्षा खतरनाक है। इसी बात को ध्यान में रखकर भारत चीन से निपटने के लिए यह कदम उठाने जा रहा है। इंडियन नेवी के एक अधिकारी के मुताबिक मई माह में हिंद महासागर में चीन की युआन क्लास की डीजल पनडुब्बी अभी वहां मौजूद है।

पानी में दुश्मनों के होश उड़ायेगी आईएनएस कलवारी :

आईएनएस कलवारी डीजल और इलेक्ट्रिक सबमरीन है। यह पानी में 350 मीटर की गहराई तक जा सकती है और पानी में करीब 40 दिनों तक रह सकती है। इस सबमरीन से एक बार में 12 हजार किलोमीटर की यात्रा कि जा सकती है। इसमें लगे हथियार दुश्‍मनों पर सटीक हमला करने में पूरी तरह से सक्षम हैं। इस पनडुब्‍बी को विशेषतौर पर जंग में इस्तेमाल करने के लिए ही डिजाइन किया गया है। इस पनडुब्‍बी में लगे कम्‍युनिकेशन मीडियम दूसरी नेवल टास्‍क फोर्स से जुड़ने में काफी उपयुक्त हैं।

loading...