राजनीति

बिहार में होगा BJP का मुख्यमंत्री! सीएम नीतीश कुमार के बयान से बिहार में बड़े बदलाव की आहट

क्या बिहार में बीजेपी को पहला मुख्यमंत्री बनने वाला है। क्या वर्तमान सीएम नीतीश कुमार केंद्र की राजनीति में जाने वाले हैं। क्या नीतीश की इच्छा अब राज्यसभा जाने की है। ये सवाल इसलिए उठ रहे हैं क्योंकि 30 मार्च को बिहार विधानसभा में अपने चेंबर में पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में जो कहा उससे ये इशारा मिल रहा है कि ऐसा होने वाला है।

नालंदा दौरे के दौरान लगी अटकलें

नालंदा दौरे पर जा रहे नीतीश कुमार से जब पत्रकारों ने पूछा कि क्या फिर से आप लोकसभा चुनाव लड़ेंगे? इसपर उन्होंने कहा कि यह मेरा बिलकुल निजी दौरा है। 2 साल तक कोरोना काल के कारण मैं नहीं जा पाया था। इसलिए वहां जा रहा हूं। लोगों से मिल रहा हूं। समस्याएं सुन रहा हूं। लोकसभा चुनाव लड़ने का इरादा नहीं है।

इस दौरान नीतीश ने कहा कि अब तक वह राज्य सभा के सदस्य नहीं बने हैं। उनकी इसी बात से लगा कि राज्यसभा जाना चाहते हैं। साथ में नीतीश ने यह भी कहा कि वह फिलहाल बिहार की सेवा कर रहे हैं। लेकिन नीतीश ने राज्यसभा वाली जो बात कही इसके बाद से सियासी गलियारों में अटकलें लगने लगी हैं कि क्या नीतीश सच में बिहार की बागडोर दूसरे को सौंप राज्यसभा जाना चाहते हैं।

Nitish Kumar

नीतीश के उपराष्ट्रपति बनने की चर्चाएं

नीतीश के उप-राष्ट्रपति बनने की चर्चा भी जोरों पर है। चर्चाएं हैं कि BJP उनको उपराष्ट्रपति बनाने का ऑफर देगी तो उनके राज्यसभा जाने का रास्ता भी साफ हो जाएगा। राज्यसभा के सभापति बन जाएंगे।

बिहार में होगा बीजेपी का मुख्यमंत्री!

बिहार के राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि बिहार में BJP अपना मुख्यमंत्री बनाना चाहती है। VIP के तीन विधायक BJP में शामिल हो गए हैं। बिहार विधानसभा में 77 विधायकों के साथ BJP सबसे बड़ी पार्टी बन गई है। बिहार से BJP विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल ने दावा किया है कि कांग्रेस के 19 में से 13 विधायक BJP के संपर्क में हैं जो जल्द BJP का दामन थामेंगे।

कयास लगने लगे हैं कि क्या BJP नीतीश को उपराष्ट्रपति बनाने का ऑफर देकर बिहार में अपना मुख्यमंत्री बनाना चाहती है? नीतीश ने आज पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में राज्यसभा जाने की इच्छा व्यक्त की है। इन सब से अटकलों का बाजार गर्म है।

नीतीश पर आरजेडी ने ये कहा

आरजेडी के मुताबिक नीतीश कुमार बतौर मुख्यमंत्री हर मोर्चे पर फेल साबित हो रहे हैं। बिहार में आपराधिक घटनाएं बढ़ रही हैं। बेरोजगारी है, उद्योग धंधे नहीं हैं, भ्रष्टाचार हो रहा है। नीतीश कुमार से बिहार संभाल नहीं रहा। बिहार से दिल्ली भागना चाहते हैं। BJP भी उन पर दबाव बना रही है। बिहार में BJP अपना मुख्यमंत्री बनाना चाहती है। इसलिये भी नीतीश दिल्ली जाकर राज्यसभा सांसद बनना चाहते हैं। नीतीश से हम लोग यही कहेंगे कि तेजस्वी को मुख्यमंत्री बना दीजिये और बिहार में रहकर आराम कीजिए।

Back to top button