समाचार

PM मोदी की फोटो हटाने पर किराएदार और मकान मालिक में लड़ाई, पीड़ित ने मांगा इंसाफ

धीरे-धीरे कई मुसलमान बीजेपी और पीएम मोदी से प्रभावित होकर उनके समर्थन में खुलकर सामने आ रहे हैं। लेकिन कई मुसलमानों को ये बात अच्छी नहीं लग रही और वो उनका विरोध कर रहे हैं। अभी हाल ही में यूपी के कुशीनगर में बीजेपी की जीत पर मिठाई बांटने पर एक मुस्लिम युवक की हत्या उसके रिश्तेदारों और पड़ोसियों ने कर दी। अब मध्य प्रदेश के इंदौर में पीएम मोदी की फोटो लगाने को लेकर विवाद हो गया है। क्या है पूरा मामला आपको आगे बताते हैं।

मध्य प्रदेश के इंदौर में मंगलवार को जनसुनवाई के दौरान एक ऐसा अनोखा मामला सामने आया जिसे जानकर आप भी चौंक जाएंगे। एक किरायेदार ने जनसुनवाई में शिकायत दी है कि उसके घर में लगी प्रधानमंत्री मोदी की तस्वीर को हटाने के लिए मकान मालिक दबाव बना रहा है और ऐसा नहीं करने पर घर खाली करवाने की धमकी दे रहा है।

पीएम की फोटो हटाने को लेकर विवाद

दरसअल हर मंगलवार को रीगल तिराहे स्थित पुलिस कमिश्नर कार्यालय में जनसुनवाई होती है। आज हुई जनसुनवाई में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया जिसने अधिकारियों को भी हैरत में डाल दिया।

दरअसल पीर गली में रहने वाला युसूफ ने जनसुनवाई में अधिकारियों के सामने शिकायत करते हुए बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विचारधारा से प्रेरित होकर उसने अपने घर में पीएम नरेंद्र मोदी की फोटो लगाई है।

उसने बताया कि तस्वीर हटाने को लेकर मकान मालिक शरीफ मंसूरी, याकूब मंसूरी और सुल्तान मंसूरी दबाव बना रहे हैं और ऐसा नहीं करने पर घर खाली करने की धमकी दे रहे हैं। युसूफ का कहना है कि वह लंबे समय से संघ की विचारधारा का समर्थक रहा है और इसलिए उसने इससे प्रेरित होकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फोटो अपने घर पर लगा रखी है।

इस मामले में एडिशनल डीसीपी मनीषा पाठक सोनी ने बताया कि ‘ फरियादी ने जनसुनवाई में आकर शिकायत दी है कि मकान मालिक माननीय प्रधानमंत्री जी की फोटो हटाने का दबाव बना रहे हैं जबकि उसने माननीय प्रधानमंत्री की विचारधारा से प्रेरित होकर उनकी तस्वीर अपने घर पर लगाई है। यह अभिव्यक्ति की आजादी के खिलाफ है। शिकायत मिलने पर सदर बाजार टीआई को मामले की जांच के लिए निर्देशित किया गया है’।

Back to top button