बॉलीवुड

42 साल की उम्र में Mrs. India Universe बनीं कर्नल की वाइफ, पति और बच्चों ने बढ़ाया था हौसला

शादी के 22 साल बाद भी अपने फिगर और बॉडी को मेंटेन रखना छोटी बात नहीं होती। लेकिन 42 साल की शिल्पा जोशी ने कभी भी अपनी फिटनेस से समझौता नहीं किया। शिल्पा की इस काबिलियत को उनके कर्नल पति और बेटी ने समझा और उन्हें अपने पुराने सपने को पूरा करने के लिए प्रेरित किया। शिल्पा ने भी हौसला दिखाया और आगे बढ़कर मिसेज इंडिया यूनिवर्स का ताज अपने नाम कर लिया।

शादी के बाद भारतीय महिलाओं का ध्यान अक्सर अपनी फैमिली की ओर अधिक हो जाता है। कई महिलाएं ऐसी हैं जिन्होंने शादी के बाद जिम्मेदारी बढ़ने और बच्चे होने के बाद अपने करियर को पीछे छोड़ दिया। वहीं कुछ फैमिलीज ऐसी भी हैं, जो शादी के बाद भी अपनी बहू के सपनों को पूरा करने के लिए सपोर्ट करती हैं।

2022 का मिसेज इंडिया यूनिवर्स खिताब जीता

आज हम एक ऐसी ही महिला के बारे में बता रहे हैं, जिन्होंने शादी के लगभग 22 साल बाद अपने सपने को पूरा किया है। इस सपने को पूरा करने में उनके परिवार ने काफी सपोर्ट किया। ये महिला बचपन से ही फैशन फील्ड में नाम कमाना चाहती थीं। अब उन्होंने 42 साल की उम्र में मिसेज इंडिया यूनिवर्स 2022 का खिताब हासिल किया है।

मिसेज इंडिया यूनिवर्स 2022 का खिताब जीतने वाली लेडी श्वेता जोशी ढ़ाडा ने मीडिया को बताया-  मेरा जन्म अमृतसर में हुआ था और मेरी स्कूल-कॉलेज की पढ़ाई भी अम़ृतसर से ही हुई। शादी के बाद मैंने बी.एड. किया। मेरे पति की पोस्टिंग हैदराबाद में है, जिनका नाम कर्नल रमन ढ़ाडा है। मेरे हसबैंड ने मेरी हर परिस्थिति में मुझे सपोर्ट किया और मेरे साथ खड़े रहे।

श्वेता ने कहा कि मेरे मन में शुरू से ही फैशन फील्ड में जाने की उत्सुकता रहती थी। मैंने शादी के बाद आर्मी के इवेंट्स में कई बार पार्टिसिपेट किया, लेकिन. इंडिविजुअल रूप से यह मेरा पहला कॉम्पिटिशन था, जिसमें पहली बार में ही मिसेज इंडिया यूनिवर्स 2022 का खिताब मिला।

श्वेता ने कहा कि – मेरी बेटी 19 साल की है और बेटा 15 साल का है। मैं इस फील्ड में काफी पहले जाना चाहती थी, लेकिन परिवार की जिम्मेदारी के कारण मैंने शुरू में उस ओर अधिक ध्यान नहीं दिया। लेकिन मेरे दिमाग में यह बात जरूर चलती थी कि मुझे कुछ न कुछ तो इस फील्ड में करना है। इसके बाद मुझे इस कॉम्पिटिशन के बारे में पता चला और फिर जयपुर में आयोजित मिसेज इंडिया यूनिवर्स 2022 पेजेंट में हिस्सा लिया। फाइनल इवेंट के दिन मुझे प्लैटिनम कैटिगरी में विनर घोषित किया गया।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Shveta Joshi Dahda (@shvetadahda)


श्वेता ने बताया, मैंने 8 साल पहले फिटनेस में सर्टिफिकेशन किया था। इसके बाद से मैं आर्मी कैंट में आर्मी वालों की फैमिली को ट्रेनिंग भी देती हूं। मैं हमेशा से ही फिटनेस को लेकर काफी अवेयर रही हूं, इसलिए मुझे फिट रहने और उसके बारे में पढ़ने में भी काफी मजा आता है। अब जब मुझे यह टाइटल मिला है, तो मैं किसी NGO से जुड़ना चाहती हूं और फिटनेस के लिए महिलाओं को अवेयरनेस करना चाहती हूं।

Back to top button