समाचार

जंग के बीच जीता प्यार: प्रेमी के लिए यूक्रेन से अकेले भारत पहुंची ऐना, कई किलोमीटर पैदल चलीं

यूक्रेन में जंग के बीच अपना प्यार पाने के लिए एना अकेले यूक्रेन से भारत के लिए चल पड़ी। रास्ते में कई कठिनाईयों को पार करते हुए वो आखिर भारत पहुंच गई। अब वो दिल्ली में अपने भारतीय प्रेमी के साथ शादी करने जा रही हैं। एना की लव स्टोरी कैसे अपने मुकाम पर पहुंची आपको आगे बताते हैं।

अनुभव के लिए यूक्रेन से आई एना

भारत के रहने वाले 33 साल के अनुभव भसीन जो पेशे से दिल्ली हाइकोर्ट में वकील हैं, उनकी 29 साल की यूक्रेनी प्रेमिका एना होरोदेत्सका अपने घर कीव से उड़ान भर कर अपने प्यार की खातिर भारत पहुंचीं। युद्ध के भयंकर माहौल में घिरे बचते-बचाते जैसे ही एना भारत पहुंचीं वैसे ही अनुभव ने उन्हें शादी का प्रस्ताव दे दिया।

लॉकडाउन के दौरान हुआ प्यार

इन दोनों के बीच रिश्ते की शुरूआत आज से ढाई साल पहले पड़ी, जब दुनिया 2020 में लॉकडाउन की वजह से बंद हो गई थी। दरअसल अनुभव और एना साथ में भारत घूम रहे थे। ऐना आईटी कंपनी में काम कर रही थीं और साथ में घर में मेकअप का काम भी करती थीं। लेकिन लॉकडाउन के वजह से जब फ्लाइट निरस्त कर दी गईं तो एना भारत में ही फंस गईं, ऐसे में वह तब तक अनुभव के घर में ही रहीं। इसी दौरान दोनों का प्यार परवान चढ़ा।

कोरोना की दूसरी लहर में टच में रहे दोनों

इसके बाद दूसरी लहर आई जिसकी वजह से दुनिया फिर लॉकडाउन हो गई लेकिन अनुभव और एना एक दूसरे के संपर्क में बने रहे। फिर जब लॉकडाउन हटा तो दोनों एक बार फिर दुबई में मिले। फिर एना भारत आईं और अनुभव उनसे मिलने कीव गए।

अब शादी की तैयारी

इस तरह पिछले साल दिसंबर में एना भारत आईं और अनुभव के परिवार से मिलीं और दोनों ने शादी करने का फैसला लिया। इसके बाद वह यूक्रेन वापस लौट गईं।

 जब प्यार में रोड़ा बना युद्ध

सब कुछ योजना के मुताबिक ही चल रहा था लेकिन फिर 24 फरवरी को सब कुछ बदल गया। जब रूस ने यूक्रेन के साथ युद्ध छेड़ दिया। एना का घर बमों के धमाकों से गूंज रहा था। फिर उन्होंने फैसला किया कि वह पोलैंड जाएंगी. इस तरह उन्होंने कुछ गर्म कपड़े और ज़रूरी सामान बांधा, स्टेशन पहुंचने के लिए कैब तलाशी, जहां उन्होंने अपनी मां और कुत्ते को छोड़ दिया। उनकी मां अपनी मां के घर कमाएन्का चली गईं। अब एना ने अकेले ही सफर शुरू किया। उन्होंने लिविव जाने के लिए दो घंटे तक ट्रेन का इंतजार किया। यह जगह यूक्रेन के पश्चिम में है और पोलिश सीमा के करीब है।

पहले स्लोवाकिया फिर पोलैंड गईं

लिविव में ऐना रात भर रुकीं। 28 को उन्होंने पोलैंड से बस लेने का फैसला लिया, लेकिन यहां उन्हें पता चला कि लोग पोलैंड की सीमा पर 24 घंटे से ज्यादा वक्त से सीमा पार करने का इंतज़ार कर रहे हैं। उन्होंने अपना फैसला बदलते हुए स्लोवाकिया जाने का मन बनाया। इस तरह वह आधी रात को सीमा पर पहुंचीं, जहां पर कुछ देर रुक कर पैदल ही सीमा पार की। जैसे ही स्लोवाकिया में प्रवेश किया तो फिर वह यहां से पोलैंड के क्राकोव तक मिनी बस के जरिए पहुंचीं। यहां पर उन्होंने दो हफ्ते गुजारे। यहां उनके कुछ दोस्त थे जिन्होंने उनके लिए खाने और रहने का इंतज़ाम किया। आखिरकार ऐना ने पोलैंड में भारत के लिए वीजा की अर्जी दी, और जैसे ही उन्हें वीजा मिला, वह फौरन भारत पहुंच गईं। जहां अनुभव शादी का प्रस्ताव देने के लिए ऐना का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे।

Back to top button