समाचार

मामा का बुल्डोजर: MP में 3 माफिया के घर गिराए गए, 2023 के लिए ‘बाबा’ की तर्ज पर चले ‘मामा’

यूपी में योगी आदित्यनाथ की सरकार दोबारा आते ही बाबा का बुल्डोजर पूरे देश में लोकप्रिय हो गया है। अन्य प्रदेशों के लोग भी यूपी बुल्डोजर नीति को अपना रहे हैं। पहले बिहार की नीतीश सरकार ने अवैध कब्जे वाली जमीन पर बुल्डोजर चलाने के लिए अलग से फंड आवंटित कर दिया तो अब मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार ने ‘मामा का बुल्डोजर’ चला दिया है।

Shivraj Singh Chouhan

3 दिन 3 आरोपियों के घर चले बुल्डोजर

यूपी की तर्ज पर एमपी में मामा का बुलडोजर चल रहा है। पिछले तीन दिनों में प्रदेश के तीन जिलों में आरोपियों के घर पर बुलडोजर चले हैं। रायसेन, श्योपुर और सिवनी में कार्रवाई हुई है। आरोपियों के घरों को बुलडोजर से ध्वस्त किया गया है।

मामा का बुल्डोजर होर्डिंग लगी

इस कार्रवाई के बाद भोपाल शहर में होर्डिंग लग गई है। बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा ने शहर के कई इलाकों में होर्डिंग लगवाए हैं। उस पर लिखा है कि बेटियों की सुरक्षा में जो भी बनेगा रोड़ा, मामा का बुलडोजर बनेगा हथौड़ा। यह तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है।

2023 के लिए एमपी बीजेपी का बुल्डोजर मॉडल

जानकार मानते हैं कि 2023 के विधानसभा चुनाव से पहले शिवराज सिंह चौहान की नई छवि गढ़ने की कोशिश है। यूपी में बाबा का बुलडोजर काफी मशहूर हुआ था। इससे लोगों के बीच योगी आदित्यनाथ की यह छवि बनाई गई थी कि वह अपराधियों के प्रति सख्त हैं। इसका फायदा उन्हें चुनाव में हुआ। एमपी में अपराधियों पर पहले भी इस तरह की कार्रवाई होती थी। मगर कभी ब्रांडिंग नहीं होती थी। यूपी में बीजेपी को मिली जीत के बाद शिवराज सिंह चौहान को प्रदेश में इसी रूप में प्रोजेक्ट किया जा रहा है।

शिवराज की सख्त छवि दिखाने की कोशिश

सियासी जानकारों के अनुसार प्रदेश में बीते तीन दिनों में तीन बड़ी कार्रवाई हुई है। रायसेन, श्योपुर और सिवनी में आरोपियों के घर गिराए गए हैं। सभी के घरों पर बुलडोजर चला है। इसकी ब्रांडिंग खूब की गई। सरकारी तंत्र के साथ-साथ संगठन के लोगों ने भी इस कार्रवाई का प्रचार किया है। इससे यहीं कयास लगाए जा सकते हैं कि हमेशा मुस्कुराते रहने वाले शिवराज सिंह चौहान की एक नई छवि गढ़ने की कोशिश हो रही है। बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा ने जो पोस्टर और होर्डिंग लगवाए हैं। उसे इसी से जोड़कर देखा जाना चाहिए।


होर्डिंग लगाने वाले विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा कि एमपी सीएम शिवराज सिंह चौहान की मंशा साफ है। वह राज्य में किसी भी आपराधिक गतिविधि को बर्दाश्त नहीं करेंगे। एमपी में महिलाओं को पूरी सुरक्षा प्रदान करना चाहते हैं। मामा अपराधियों पर अब बुलडोजर चलवाएंगे।

2023 में बीजेपी का जीत का लक्ष्य

शिवराज सिंह चौहान की नई छवि गढ़ने की कोशिशों को 2023 से जोड़कर देखा जा रहा है। 2023 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी का चेहरा कौन होगा ये तो साफ नहीं है। लेकिन अपराधियों के घरों पर बुलडोजर चलवाकर शिवराज सिंह चौहान को एक नए अवतार के रूप में प्रस्तुत जरूर किया जा रहा है। बीजेपी की ये कोशिश होगी कि 2023 के चुनाव में जब हम जनता के बीच जाएं, तो लॉ एंड ऑर्डर के नाम पर वोटरों को लुभा सकें।

गौरतलब है कि शिवराज सिंह चौहान इससे पहले भी सार्वजनिक मंचों से अपराधियों और भ्रष्ट अधिकारियों के प्रति सख्त रूख अपनाते रहे हैं। कई बार उन्होंने मंचों से अपराधियों को गाड़ने की बात कही है। इसके साथ ही भ्रष्ट अधिकारियों को भी वह हड़काते रहे हैं। कई बार तो मंच से ही उन्हें निलंबित करने की घोषणा तक कर दी।

Back to top button